बीईएल मैनेजमेंट के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन, मैनेजमेंट का किया पुतला दहन

 बीईएल मैनेजमेंट के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन, मैनेजमेंट का किया पुतला दहन
Posted on नवंबर 20, 2021 5:22 pm
                                                   
कोटद्वार। भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड के कोटद्वार स्थित उपक्रम में 53 अप्रेंटिस पदों में से केवल 4 पदों पर ही स्थानीय युवाओं को मौका दिए जाने से आक्रोशित पार्षदों व भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने मैनेजमेंट का पुतला दहन कर प्रदर्शन किया। उन्होंने भर्ती को निरस्त करके स्थानीय युवाओं को प्राथमिकता दिए जाने की मांग को लेकर तहसील प्रशासन के माध्यम से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को भी ज्ञापन भेजा।

This slideshow requires JavaScript.

शनिवार को बीईएल गेट के समक्ष प्रदर्शन करते हुए वक्ताओं ने कहा कि भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड की ओर से अप्रेंटिस के 53 पदों के लिए फार्म जारी किए गए हैं जिसमें से केवल 4 पदों पर स्थानीय युवाओं को मौका दिया जा रहा है बाकी 49 पदों को अन्य बाहरी युवाओं के लिए आरक्षित किया गया है। जिससे स्थानीय युवाओं में आक्रोश बना हुआ है। कहा कि उत्तराखंड सरकार की ओर से जारी किए गए शासनादेश के तहत किसी भी संस्थान व उद्योग को अपने यहां 70 प्रतिशत स्थानीय युवाओं को मौका देने का प्रावधान है लेकिन बीईएल के कोटद्वार स्थित उपक्रम में उसका पालन नहीं हो रहा है। उन्होंने उक्त भर्ती को शीघ्र निरस्त करके दूसरा फार्म निकालकर स्थानीय युवाओं को प्राथमिकता दिए जाने की मांग की है। प्रदर्शन करने वालों में भाजयुमो जिलाध्यक्ष सौरभ नौडियाल, जिला मंत्री मनीष आर्य, भाबर मंडल अध्यक्ष मनोज पांथरी नगर मंडल अध्यक्ष अतुल डोबरियाल, पार्षद मालती बिष्ट, रितु चमोली, आशा डबराल, दीपक लखेड़ा, अमित सिंह रावत, विपिन कोटनाला, रोहित चौहान, आशीष जदली, गिंदी दास, मनमोहन द्विवेदी, दिनेश चंद्र डंगवाल, दरबान सिंह गुसाईं, रामकृष्ण सिंह आदि शामिल रहे।

Related post