उविपा ने किया पंतनगर कृषि विश्वविद्यालय को केंद्र सरकार को सौंपने का विरोध

 उविपा ने किया पंतनगर कृषि विश्वविद्यालय को केंद्र सरकार को सौंपने का विरोध
Posted on अक्टूबर 25, 2021 11:28 am
                                                   
गढ़वाल : उत्तराखंड विकास पार्टी के उपाध्यक्ष पूरण सिंह भंडारी ने पंतनगर कृषि विश्वविद्यालय को केंद्र सरकार को सौंपने का विरोध किया है । उन्होंने कहा कि बार बार आग्रह के बावजूद भाजपा सरकार राज्य को नुकसान पहुंचाने वाले कार्यों को नहीं रोक रही है। साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी इस मुद्दे पर चुप है इसी लिए लगता है कि पन्त नगर विश्वविद्यालय की मूल भावना को खत्म करने में दोनों दल साझेदार हैं। उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस को राज्य हितों की जरा भी परवाह है तो वो पंतनगर कृषि विश्वविद्यालय को केंद्रीय बनाये जाने का विरोध करे।
उविपा उपाध्यक्ष पूरण सिंह भंडारी ने कहा कि पंतनगर कृषि विश्वविद्यालय स्वयं में सक्षम है और उत्तराखंड की पहचान है। साथ ही वर्तमान में राज्य सरकार द्वारा संचालित किए जाने के कारण राज्य सरकार अपने राज्य के छात्रों को बेहतरीन सुविधाएं और आरक्षण प्रदान कर सकती हैं। मगर भारतीय जनता पार्टी राज्य के तमाम संसाधनों को बेचने पर आमादा है। यदि भारतीय जनता पार्टी एक कृषि विश्वविद्यालय नहीं चला सकती तो पहाड़ में कृषि के दम पर पलायन रोकने की बात कैसे कर सकती है ? साथ ही यह संदेह पैदा होता है कि जो सरकार एक बेहतरीन अंतरराष्ट्रीय कृषि विश्वविद्यालय जो कि अपनी ख्याति में पहले ही राज्य सरकार पर निर्भर नहीं है को ही नहीं चला सकती, तब यह सरकार राज्य को कैसे चला सकती है ? इस हिसाब से तो मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को राज्य सरकार को भी केंद्र सरकार को सौंप देना चाहिए।

Related post