उत्तरकाशी : विश्व जल दिवस के अवसर पर कैच दे रैन का हुआ शुभारंभ

 उत्तरकाशी : विश्व जल दिवस के अवसर पर कैच दे रैन का हुआ शुभारंभ
22 मार्च, 2021
                                                         

उत्तरकाशी (कीर्तिनिधी सजवण): विश्व जल दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री द्वारा सीधे प्रसारण के माध्यम से कैच द रेन अभियान का आज शुभारंभ किया। सोमवार को जनपद में इस अभियान के अंर्तगत राजकीय इंटर कालेज मानपुर में बृहद कैच द रेन कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की।

मुख्य अतिथि जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने संबोधित करते हुए कहा की प्रधानमंत्री के द्वारा आज से पूरे देश में जल शक्ति अभियान की शुरुआत की है जो सौ दिन तक चलेगा। इस कार्यक्रम के तहत अधिक से अधिक वर्षा जल को एकत्र करना व वृक्षारोपण करना है ताकि हमारे प्राकृतिक स्रोत रिचार्ज हो सकें। जनपद में वर्तमान में इन्द्रावती नदी को पुनर्जीवित करने का कार्य किया जा रहा है। नदी के सभी कैचमेंट एरिया में चाल- खाल,खंतीयों का निर्माण किया जा रहा है। ताकि इस नदी से लगे सभी गांव के प्राकृतिक पानी के स्रोत रिचार्ज हो सकें। जिलाधिकारी ने कहा कि जहां चाल खाल, खंतीयों व वृक्षारोपण करने से हमारे पानी के स्रोत रिचार्ज होंगे वहीं भू-गर्भिय नमी रहेगी तथा वनाग्नि लगने की सम्भावना भी कम रहेगी। इसलिए गांव के लोग अधिक से अधिक अपने घरों के पास पिट व सामूहिक भूमि पर चाल,खाल खंतीयों का निर्माण करें।

जिलाधिकारी ने कार्यक्रम में उपस्थित ग्रामीणों को जल संरक्षण व संवर्द्धन हेतु सामुहिक रूप से आगे आने का आह्वान किया। तथा छात्र -छात्राओं की भी बड़ी जिम्मेदारी बताया। इसी परिपेक्ष्य में स्कूली बच्चों को वर्षा जल को एकत्र करने की तकनीक व चाल-खाल,खंती निर्माण के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया। तथा बच्चों को नव निर्मित चाल-खाल, खंती दिखाई गई। इस दौरान जिलाधिकारी ने रिलायंस फाउंडेशन को इंद्रावती नदी से लगे सभी गांव को जल संरक्षण के प्रति प्रेरित करने निर्देश दिए। तथा गांव में अधिक से अधिक चाल-खाल,खंतीयों के निर्माण में महिलाओं एवं पुरूषों की भागेदारी सुनिश्चित करवाने को कहा। इसके अलावा जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में गंगा स्वच्छता पखवाड़े के अंर्तगत विभिन्न कार्य किये जा रहें है। यह पखवाड़ा 16 मार्च से शुरू किया गया है जो 31 मार्च तक चलेगा। कार्यक्रम के अंर्तगत गंगा की स्वच्छता व अविरलता हेतु स्वच्छता कार्यक्रम, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के कार्य व जनजागरूकता कार्यक्रम आयोजित किये जा रहें है। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने देवदार की पौध का भी रोपण किया।

जल संरक्षण व संवर्द्धन के लिए विद्यालय प्रबंधन द्वारा चित्रकला, निबंध व भाषण प्रतियोगिता आयोजित कराई गई। जिसमें चित्रकला में गोपेंद्र मराठा पहले,आदर्श निराला दूसरे व अंजली भट्ट तीसरे स्थान पर रही। निबन्ध प्रतियोगिता में अंजली राणा पहले, सुष्मिता दूसरे, दिव्या तीसरे स्थान पर रही। भाषण प्रतियोगिता में सुष्मिता पहले सूरज निराला दूसरे स्थान पर रहें। सभी विद्यार्थियों को जिलाधिकारी ने पुरस्कृत किए। डीएफओ दीपचंद आर्य, परियोजना निदेशक संजय सिंह, मुख्य शिक्षाधिकारी श्री सेमल्टी, जिला विकास अधिकारी विमल कुमार आर्य, ईई जल संस्थान बीसी डोगरा, पर्यावरण विशेषज्ञ स्वजल प्रताप सिंह मटूड़ा, ग्राम प्रधान मानपुर, सहित विद्यालय के छात्र छात्राएं सहित अधिक संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे ।

Related post

%d bloggers like this: