उत्तराखंड पुलिस करा रही हैं देवभूमि साईबर हैकाथॉन के पहले संस्करण का आयोजन, जीतने वाले को मिलेगा इतना ईनाम

 उत्तराखंड पुलिस करा रही हैं देवभूमि साईबर हैकाथॉन के पहले संस्करण का आयोजन, जीतने वाले को मिलेगा इतना ईनाम
Posted on अक्टूबर 11, 2021 3:31 pm
                                                   
देहरादून : अक्टूबर-नवंबर 2021 में उत्तराखंड पुलिस द्वारा देवभूमि साइबर हैकाथॉन के पहले संस्करण का आयोजन किया जा रहा है। यह हैकाथन उत्तर भारत में किसी भी राज्य पुलिस द्वारा आयोजित किए जाने वाला पहला ऐसा प्रतिस्पर्धा है। इस मेगा कोडिंग इवेंट का मुख्य उद्देश्य हमारे देश-प्रदेश के युवा छात्रों व युवा इंटरप्रेन्योर के कौशल, विशेषज्ञता व रचनात्मकता के माध्यम से पोलिसिंग की चुनौतियों के तकनीक, नवाचारी और स्थायी समाधान प्रदान करना है।यह उत्तराखंड पुलिस के SMART Policing की ओर होते सफर में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर सिद्ध होगा।यह कार्यक्रम दो चरणों में आयोजित किया जाएगा- प्रथम या प्रारंभिक चरण और अंतिम हैकाथन चरण।
प्रारंभिक चरण के लिए प्रतिभागी official website http://devbhoomicyberhackathon.com पर 08 अक्टूबर 2021 से रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। उपरोक्त वेबसाइट पर ही प्रॉब्लम स्टेटमेंट भी अपलोड किए गए हैं जिसका समाधान, प्रतिभागी की आधिकारिक ID devbhoomihackathon@gmail.com पर दिनांक 20 अक्टूबर भेज सकेंगे। ज्यूरी द्वारा चयनित प्रतिभागी टीमों को परिणाम उपरोक्त आधिकारिक वेबसाइट पर 31 अक्टूबर तक अपलोड किया जाएगा। इसके उपरांत चयनित टीम द्वारा देवभूमि साइबर हैकाथॉन के फाइनल राउंड में प्रतिभाग किया जाएगा। फाइनल राउंड 36 घंटों का non-stop coding session है, जो दिनांक 10 नवम्बर व 11 नवम्बर को UPES, Dehradun में आयोजित किया गया है। पहली 3 टीम विजेता teams को 100000 की धनराशि का प्रोत्साहन पुरस्कार 12 नवम्बर को पुलिस मुख्यालय में प्रदान किया जाएगा। पूर्ण विवरण उपरोक्त आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है।
पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड अशोक कुमार द्वारा यह बताया गया कि उत्तराखंड पुलिस पूरे उत्तर भारत में पहली ऐसी राज्य पुलिस है, जिसके द्वारा इस प्रकार का प्रतिस्पर्धा आयोजित किया गया है। उनके द्वारा यह भी कहा गया कि LEAs द्वारा सामना की जाने वाली चुनौतियों का अस्थायी समाधान के लिए हमें टेक्नोलॉजी की ओर बढ़ना होगा। साथ ही उनके द्वारा युवा इंटरप्रेन्योर को प्रेरित किया गया कि वे इस हैकाथन में बढ़-चढ़कर प्रतिभाग करें। उत्तराखंड पुलिस की इस पहल में UPES, देहरादून द्वारा सहयोग प्रदान किया जा रहा।

Related post