जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे की अध्यक्षता में नमामि गंगे के अंतर्गत जिला स्तरीय गंगा समिति की समीक्षा बैठक हुई आयोजित

 जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे की अध्यक्षता में नमामि गंगे के अंतर्गत जिला स्तरीय गंगा समिति की समीक्षा बैठक हुई आयोजित
24 जून, 2021
                                                         

पौड़ी : विकास भवन सभागार पौड़ी में जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे की अध्यक्षता में आज नमामि गंगे के अंतर्गत जिला स्तरीय गंगा समिति की समीक्षा बैठक आयोजित हुई। बैठक के दौरान जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने नगर निगम, नगर पालिका, नगर पंचायतों तथा ग्राम पंचायतों से संबंधित अधिकारियों को नाला टेपिंग, सीवरेज निर्माण, बायो मेडिकल निस्तारण, भूजल निकासी, गंगा तट पर अतिक्रमण हटाना, नगर पालिकाओं के ठोस कूड़ा निस्तारण तथा जैव चिकित्सा अवशिष्ट पर गंभीरता के साथ कार्य करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जो निर्माण कार्य पूर्ण हो चुके हैं उनकी रिपोर्ट उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। कहा कि बरसात से पूर्व नालों की सफाई करना सुनिश्चित करें। साथ ही उन्होंने कहा कि नगर पालिका, जल संस्थान सहित अन्य संबंधित अधिकारी प्रत्येक माह नदी से लगे क्षेत्रों संयुक्त निरीक्षण करें।

जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने आयोजित बैठक में संबंधित अधिकारियों के साथ सीवरेज के संग्रह व निस्तारण, घरेलू/होटल/धर्मशाला/आश्रम/कैम्प के कूड़ा निस्तारण, नगर पालिका का ठोस कूड़ा निस्तारण, उद्योग अपशिष्ट, नदियों के किनारे खनन, जैव चिकित्सा अवशिष्ट, गंगा तट पर अतिक्रमण, गंगा नदी के न्यूनतम पर्यावरण प्रवाह, जल गुणवत्ता, सीवरेज उपचारित जल का पुनः तथा भूजल निकासी का विनियमन सहित अन्य विषयों पर विस्तृत चर्चा की गई। जिलाधिकारी ने कहा कि क्षेत्र में होटल, धर्मशाला, कैम्प व अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान सीवरेज लाइन से नहीं जुड़े वे शीघ्र ही अपने सीमा के अंतर्गत छोटे बायो डाईजस्टर या एफएसटीपी बनाये, कहा कि उक्त कार्यवाही न करने पर नगर पालिका संबंधित स्वामियों को नोटिस जारी करें। साथ ही उन्होंने नगर पालिकाओं के अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया कि कूड़ा निस्तारण हेतु छोटे प्लांट लगायें, जिसकी डीपीआर जल्द तैयार करना सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि नदियों की सफाई हेतु ट्रीटमेन्ट प्लांट लगायें। उन्होंने समस्त अधिकारियों से क्षेत्रान्तर्गत प्रतिदिन निकलने वाले गीले, सूखे व प्लास्टिक कूड़े तथा उसके निस्तारण की विस्तृत जानकारी ली। साथ ही उन्होंने जिला पर्यटन अधिकारी से गंगा किनारे पंजीकृत होटल, धर्मशाला व कैम्पों से निकलने वाले कूड़े की जानकारी ली। बैठक में बताया गया कि श्रीनगर नगर पालिका में 04 सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में से 03 का निर्माण पूर्ण हो चुका है तथा 01 का निर्माण कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि नगर पालिका श्रीनगर के अंतर्गत उफल्ड़ा, डांग तथा नगर पालिका पौड़ी में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट निर्माण की डीपीआर शासन को स्वीकृति के लिये भेजी जा चुकी है।

इस अवसर पर डीएफओ गढ़वाल मुकेश कुमार, जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिंह नेगी, एडीपीआरओ नितिन नौटियाल, ईओ श्रीनगर राजेश नैथानी, आयुर्वेदिन यूनानी अधिकारी डॉ. सुभाष चंद्रा, पीएम स्वजल दीपक रावत, ईई जल संस्थान शिव कुमार राय, ईओ सतपुली सुशील बहुगुणा सहित हेंमत कुमार, अनिल राणा अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: