एम्स ऋषिकेश के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत के निर्देशन में टेली नर्सिंग सेवा की गयी विधिवत शुरू

 एम्स ऋषिकेश के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत के निर्देशन में टेली नर्सिंग सेवा की गयी विधिवत शुरू
25 जून, 2021
                                                         

ऋषिकेश : अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत के निर्देशन में टेली नर्सिंग सेवा विधिवत शुरू कर दी गई है, जो कि कोविडकाल के मद्देनजर संस्थान द्वारा संचालित की जा रही टेलीमेडिसिन सेवा के अंतर्गत संचालित हो रही है। जिससे होम आइसोलेशन वाले और सामान्य मरीज इसका लाभ लेने लगे हैं। जिससे होम आइसोलेशन वाले कोविड संक्रमित व सामान्य मरीज अपनी बीमारी से संबंधित परामर्श घर बैठे ही ले सकते हैं।

इस अवसर पर कम्युनिटी एंड फेमिली मेडिसिन विभागाध्यक्ष प्रो. वर्तिका सक्सैना ने बताया कि टेलीमेडिसिन सेवा विशेषरूप से उन लोगों के लिए शुरू की गई है, जो लोग कोविड पॉजिटिव हैं और होम आइसोलेशन में हैं, इसके अलावा अन्य सामान्य मरीज भी संस्थान की टेलीमेडिसिन सेवा का लाभ ले सकते हैं। कॉलेज ऑफ नर्सिंग की प्राचार्य व टेली नर्सिंग सेवा की नोडल ऑफिसर डा. सी. वसंता कल्याणी ने बताया कि कोविड मरीजों के लिए होम आइसोलेशन के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों की विस्तृत जानकारी दी। बताया कि मरीज बेहतर पौष्टिक आहार, व्यायाम व नियमित तौर पर भाप लेकर घर पर ही ठीक हो सकते हैं।

एम्स की टेलीमेडिसिन सेवा के नोडल ऑफिसर डा. योगेश बहुरूपी ने बताया कि कोविडकाल में मरीजों की सुविधा के लिए संस्थान द्वारा संचालित की जा रही टेलीमेडिसिन सेवा वर्चुअल ओपीडी के तहत ही टेली नर्सिंग सेवा शुरू की गई है। जो कि प्रत्येक सप्ताह सोमवार से शनिवार तक सुबह 9 बजे से सांय 5 बजे तक संचालित की जा रही है। इस वर्चुअल ओपीडी के माध्यम से जो भी मरीज एम्स ऋषिकेश में पहले से अपना उपचार करा रहे हैं, वह अस्पताल न आकर फोन कॉल के माध्यम से अपने कंसलटेंट से बात कर सकते हैं, ताकि उनकी बीमारी को लेकर जो भी समस्या है उसका समाधान किया जा सके।

कॉलेज ऑफ नर्सिंग के असिस्टेंट प्रोफेसर मनीष शर्मा ने बताया कि संस्थान द्वारा संचालित की जा रही संवाद डेस्क के माध्यम से पोस्ट कोविड मरीजों के लिए भी टेलीनर्सिंग के माध्यम से परामर्श दिया जा रहा है, ऐसे में यदि कोई कोविड पॉजिटिव मरीज अस्पताल से डिस्चार्ज होता है तो उसे घर पर किस तरह से आवश्यक सावधानियां बरतनी हैं, ऐसे फोन कॉल्स को संवाद डेस्क से टेलीनर्सिंग सेवा में ट्रांसफर किया जाता है,जिस पर मरीज को नर्सिंग संबंधित परामर्श दिया जाता है। टेली नर्सिंग टीम में शामिल नर्सिंग ट्यूटर विश्वास ए.एस., प्रिया शर्मा व हेमलता ने बताया कि कोविड पॉजिटिव मरीजों के मानसिक संतुलन पर भी कोविड संक्रमित होने के बाद दुष्प्रभाव पड़ता है, लिहाजा टेली नर्सिंग सेवा के माध्यम होम आइसोलेशन अथवा पोस्ट कोविड मरीजों को इससे संबंधित सहायता दूरभाष नंबर 74549 89545 पर उपलब्ध कराई जा रही है।

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: