STF का ऑपरेशन जेल, पौडी जेल में निरूद्व शातिर अपराधी नरेन्द्र बाल्मिकी के 03 शूटर को किया गिरफ्तार 

 STF का ऑपरेशन जेल, पौडी जेल में निरूद्व शातिर अपराधी नरेन्द्र बाल्मिकी के 03 शूटर को किया गिरफ्तार 
Posted on नवंबर 1, 2021 7:09 pm
                                                   
देहरादून : स्पेशल टास्क फोर्स STF उत्तराखण्ड द्वारा संगठित अपराधियों एंव संगीन अपराधों में लिप्त अपराधियों पर प्रभावी कार्यवाही हेतु तकनीकी एवं भौतिक निगरानी किया जाता है  साथ ही साथ उत्तराखण्ड की कारागार में निरूद्ध ऐसे कुख्यात व शातिर अपराधी जोकि कारागार में निरूद्व रहते हुये अपने गैंग को संचालित कर गैंग के सदस्यो से क्षेत्र में भय उत्तपन्न करना, सुपारी लेकर हत्या किसी भी सम्भा्रन्त व्यक्तियों से रंगदारी वसूलना व रंगदारी ना मिलने पर हत्या करवाना, विवादित भूमि, मकान आदि सम्पत्ति में डरा-धमकाकर अपने पक्ष में फैसला करावाना आदि किया जाता है।
ऐसे संगठित अपराधियों के विरूद्व कारागार में कार्यवाही करते हुये माह जनवरी में जिला कारागार हरिद्वार में निरूद्व कुख्यात अपराधी इन्तजार उर्फ पहलवान द्वारा अपने साथ बन्द कारागार में एक व्यवसायी से डरा धमका कर 02 सोने की चैन की मॅाग की गई थी व एसटीएफ द्वारा जिला प्रशासन के साथ मिलकर कारागार में कार्यवाही कर मोबाईल फोन आदि बरामद किये गये तथा कारागार से बाहर 02 अभियुक्तों को मय 02 सोने की चैन के साथ गिरफ्तार किया गया एवं माह अक्टूबर में अल्मोडा कारगार में कार्यवाही करते हुये कारागार में निरूद्व शातिर अपराधी कलीम के साथ अन्य कुल 07 अपराधियों पर वैधानिक कार्यवाही करते हुये एक लाख उन्नतीस हजार रूपये, 04 सिम मय मोबाईल फोन तथा चरस बरामद की गई साथ ही साथ कलीम गैंग के चार सदस्यो को 03 तंमचो के साथ गिरफ्तार किया गया। कलीम द्वारा में क्षेत्र में धनाढ्य लोगो में दहशत फैलाने के उद्देश्य से बिहार के 02 शूटरो एवं अपने गैंग के 02 शूटरो को किसी सम्भ्रान्त व्यक्ति पर हमला कराकर रंगदारी वसूलने का काम सौंपा गया था। 
कारागार निरूद्व अपराधियों एवं उत्तराखण्ड में सक्रिय / पुराने अपराधियों की तकनीकी एवं भौतिक रूप से निगरानी के दौरान प्रकाश में आया कि पौडी कारागार में निरूद्व कुख्यात हत्यारोपी नरेन्द्र बाल्मिकी अपने किसी पुराने मुकदमें के गवाह की व मंगलौर थानाक्षेत्र में किसी व्यक्ति की अपनी रंजीश के चलते उन दोनो की हत्या की योजना बना रहा है साथ ही साथ नरेन्द्र बाल्मिकी द्वारा किसी महिला की हत्या करने के लिये 10 लाख रूपये की सुपारी लेना ज्ञात हुआ। STF की चार टीमो द्वारा विगत कुछ माह पूर्व से नरेन्द्र बाल्मिकी के शूटरो, अस्लाह सप्लायरो, उसके पुराने साथियों तथा सहयोगियों की निगरानी लगायी गयी।
पतारसी सुरागरसी के दौरान कल 31 अक्टूबर 2021 को पुख्ता जानकारी मिली कि उत्तरप्रदेश के सहारनपुर व मुजफ्फरनगर तथा हरियाणा के फरीदाबाद क्षेत्र के कुछ गैंगस्टरों से उसके गिरोह के रूडकी निवासी मुख्य शूटर पकॅज द्वारा सम्पर्क किया गया है और तीन शूटर देहरादून आ रहे है जो कि चन्द्रबदनी, देहरादून क्षेत्र में किसी कमरे पर आयेगे। इस त्वरित कार्यवाही करते हुये STF की एक टीम को क्लेमनटाउन क्षेत्र में रवाना किया गया जिस पर कार्यवाही करते हुये आशारोडी चैक पोस्ट के पास 03 अभियुक्तो नीरज पण्डित पुत्र सुशील नि. मोहना, थाना चाईशा, जिला फरीदाबाद राज्य हरियाणा, सचिन पुत्र सोहनवीर नि. सोरम पट्टी हस्वा, पो. सोरम, थाना शाहपुर, तह0 बुढाना, जिला मु.नगर तथा अकिंत पुत्र बलिष्टर नि. ग्राम सलारपुरा पो. गंगोह जिला सहारनपुर को गिरफ्तार किया गया।
जिनके पास से 02 तमंचे 315 बोर 04 जिन्दा कारतूस, 01 तमंचा 312 बोर, 02 जिन्दा कारतूस, 03 मोबाइ्रल फोन, 01 मोटर साईकिल, 01 एक्टिवा बरामद की गई जिस सम्बन्ध में मु0अ0स0 115/120 बी भादवि और 25 आम्र्स एक्ट थाना क्षेत्रान्तर्गत क्लेमनटाउन जनपद देहरादून में पंजीकृृत कराया गया। पूछताछ में बताया गया कि पौडी जेल में बन्द नरेन्द्र बाल्मिकी के कहने पर उन्हे पकॅज ने बुलाया और बताया कि रूडकी में दो व्यक्त्यिों पर हमला करना है और हम तीनो को एक-एक तमंचा दिया और कहा कि उनके पुराने साथी बाबू की हत्या हो गई है इसलिये तुम तीनो देहरादून में चन्द्रबदनी वाले क्षेत्र में चले जाओ और जब काम करना हो होगा मै उन्हे रूडकी बुला लेगा। साथ ही साथ STF की एक टीम को पौडी कारागार में नरेन्द्र बाल्मिकी से पूछताछ एंव कार्यवाही हेतु भेजा गया। STF की टीमो को उपरोक्त अपराध में संलिप्त अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु हरियाणा, उत्तरप्रदेश, दिल्ली भेजा गया है।
अभियुक्तों में नीरज पण्डित निवासी हरियाणा, सचिन निवासी मुजफ्फरनगर तथा अकिंत पूर्व में गैगस्टर एक्ट में जेल जा चुके है। फरार अभियुक्त पकॅज निवासी रूडकी, नीरज पण्डित वर्ष 2016 में दिनदहाडे सनसीखेज हत्या में शामिल रहे है। अकिंत तथा सचिन द्वारा गैंग के लिये काम करने के साथ-साथ आम्र्स सप्लाई एवं चोरी की गाडी भी उपलब्ध कराते है।
STF की अलग-अलग टीमो द्वारा संगठित अपराधियों की भौतिक एवं तकनीकी सर्विलान्स के माध्यम से अपराधियों की गतिविधियों पर अकॅुश लगाने एवं ठोसे कार्यवाही की जा रही है राज्य में कोई जधन्य अपराध घटित पूर्व ही अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है। संगठित अपराध पर अकॅश लगाने के उद्देश्य से STF द्वारा हरियाणा, उत्तरप्रदेश, दिल्ली, पंजाब आदि राज्यो के उत्तराखण्ड राज्य में गतिविधियों पर लगातार पतारसी सुरागरसी की जाती है। 

अभियुक्तगण

  1. नीरज पण्डित पुत्र सुशील नि. मोहना, थाना चाईशा, जिला फरीदाबाद राज्य हरियाणा,
  2. सचिन पुत्र सोहनवीर नि. सोरम पट्टी हस्वा, पो. सोरम, थाना शाहपुर, तह. बुढाना, जिला मु.नगर
  3. अकिंत पुत्र बलिष्टर नि. ग्राम सलारपुरा पो. गंगोह जिला सहारनपुर

बरामद

  1. 02 तमंचे 315 बोर 04 जिन्दा कारतूस,
  2. 01 तमंचा 312 बोर, 02 जिन्दा कारतूस,
  3. 03 मोबाइ्रल फोन,
  4. 01 मोटर साईकिल,
  5. 01 एक्टिवा बरामद

पुलिस टीम

  1. पुलिस उपाधीक्षक जवाहर लाल मय टीम

Related post