STF उत्तराखंड : साईबर क्राइम पुलिस द्वारा जारी साईबर बुलेटिन 27 मई 2021

 STF उत्तराखंड : साईबर क्राइम पुलिस द्वारा जारी साईबर बुलेटिन 27 मई 2021
27 मई, 2021
                                                         

देहरादून : स्पेशल टास्क फोर्स उत्तराखंड के अंतर्गत कार्यरत साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन देहरादून द्वारा आज 27 मई 2021 संध्या 5:00 pm की साइबर बुलेटिन CYBER BULLETIN :

  1. रामपाल कश्यप निवासी तीन पानी, रुद्रपुर जनपद उधमसिंहनगर द्वारा साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन कुमाऊं परिक्षेत्र में एक प्रार्थना पत्र प्रेषित किया गया जिसमें उनके द्वारा अवगत कराया गया कि उन्हे एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा कॉल कर स्वयं को उनका परिचित बताते हुये धनराशि उनके खाते में भेजने के नाम पर UPI के माध्यम सें कुल 40,000/- (चालिस हजार) रुपये धोखाधड़ी से निकासी कर ली गयी । उक्त प्रार्थना पत्र पर साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन कुमाऊं परिक्षेत्र से उपनिरीक्षक विनोद जोशी व कानि0 रवि बोरा के द्वारा त्वरित कार्यवाही करते सम्बंधित वॉलेट के नोडल अधिकारियों से सम्पर्क करते हुये शिकायतकर्ता की सम्पूर्ण धनराशि 40,000/- (चालीस हजार) रुपये उनके खाते में वापस करायी गई। संदिग्ध के सम्बन्ध में जानकारी की जा रही है ।
  2. शिकायतकर्ता मनीष कुमार निवासी लेक सिटी रुद्रपुर उधमसिंहनगर द्वारा साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन कुमाऊँ परिक्षेत्र उत्तराखण्ड को एक शिकायती प्रार्थना पत्र प्रेषित किया गया था। जिसमें उनके द्वारा अवगत कराया गया कि उन्हे अज्ञात कॉलर द्वारा स्वयं को उनका परिचित बताकर धनराशि उनके अकाउंट में धनराशि भेजने के नाम पर UPI के माध्यम से 15,700/- (पन्द्रह हजार सात सौ) रुपये ऑनलाईन धोखाधड़ी कर निकासी कर ली गयी । उक्त प्रार्थना पत्र पर साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन कुमाऊँ परिक्षेत्र से हे0कानि0 सत्येंद्र गंगोला द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुये सम्बंधित मर्चेंट/गेटवे से पत्राचार व समन्वय स्थापित कर शिकायतकर्ता की सम्पूर्ण धनराशि 15,700/- (पन्द्रह हजार सात सौ) रूपये वापस करायी गयी। संदिग्ध के सम्बन्ध में जानकारी की जा रही है ।
  3. हिमांशु कुमार निवासी विजयपुर थाना कैण्ट जनपद देहरादून द्वारा एक प्रार्थना पत्र साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून को प्रेषित किया गया, जिसमे उनके द्वारा अवगत कराया गया कि उनको अज्ञात व्यक्ति द्वारा कॉल कर स्वयं को H.V. Technology से बताते हुये घर बैठे कार्य कर पैसे कमाने की बात कही गयी । शिकायतकर्ता द्वारा सहमति देने पर उसके द्वारा डाटा एन्ट्री का कार्य दिया गया । इसके उपरान्त उनके द्वारा कार्य समय पर पूर्ण न करने की बात कहते हुये डराया धमकाया गया तथा कानूनी कार्यवाही का डर दिखाते हुये विभिन्न शुल्क के रुप में कुल 81010/- (इकास्सी हजार दस रुपये) रुपये धोखाधडी से प्राप्त किये गये । प्रकरण में आवश्यक तकनीकि जानकारी प्राप्त करते हुये थाना साईबर क्राईम पर अभियोग पंजीकृत किया गया है ।
  4. हाथीबड़कला थाना कैण्ट जनपद देहरादून निवासी व्यक्ति द्वारा साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन को एक प्रार्थना पत्र प्रेषित किया, जिसमें उनके द्वारा अवगत कराया गया कि उनको अज्ञात मोबाईल नम्बर धारक द्वारा कॉल कर स्वयं को टेलीकॉम कम्पनी से बताते हुये उनके मोबाईल सिम की KYC न होने के कारण मोबाईल नम्बर बंद होना बताया गया। शिकायतकर्ता से KYC अपडेट कराने के नाम पर भेजे गये लिंक के माध्यम से 10/- रुपये का रिचार्ज करने हेतु कहा गया। शिकायतकर्ता द्वारा उक्त पर विश्वास करते हुये भेजे गये लिंक के माध्यम से 10/- रुपये रिचार्ज करने हेतु अपने डेबिट कार्ड नम्बर एवं पिन आदि दर्ज किया गया जिससे उनके उनके खाते से कुल 30,000/- (तीस हजार) रुपये धोखाधड़ी से निकासी हो गयी । उक्त प्रार्थना पत्र की जांच उ0नि0 हिम्मत सिंह द्वारा की गयी तथा शिकायतकर्ता से प्राप्त विवरण के आधार पर सम्बन्धित बैंक से सम्पर्क किया गया तो ज्ञात हुआ कि शिकायतकर्ता के खाते से धनराशि कोटक महिन्द्रा बैंक पश्चिम बंगाल के में जमा कर निकाला गया है। मोबाइल धारक की जानकारी की गयी तो उक्त नम्बर भी पश्चिम बंगाल का होना पाया गया । प्रकरण में अग्रिम कार्यवाही हेतु सम्बन्धित जनपद देहरादून को भेजा गया ।

साईबर सुरक्षा टिप

  • कभी भी किसी से अपने डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड की जानकारी शेयर न करें । कोई भी बैंक या वॉलेट आपको फोन कर आपकी बैंकिग डिटेल नही मांगता है ।
  • KYC अपडेट/मोबाईल नम्बर बंद होने सम्बन्धी मैसेज/फोन कॉल आने पर अपनी व्यक्तिगत/बैंक सम्बन्धी जानकारी शेयर न करें ।
  • ध्यान रखे कि अंजान व्यक्ति द्वारा भेजे गये किसी भी पेमेन्ट गेटवे /वॉलेट/मोबाईल एप्लीकेशन पर धनराशि प्राप्त करने हेतु कभी भी न तो QR कोड स्कैन करें, और न ही UPI पिन डालें ऐसा करने से हमेशा धनराशि आपके खाते से ही डेबिट होगी ।
  • किसी अजनबी या किसी ऐसे व्यक्ति से प्राप्त संदेश का जवाब न दें जिसे आप नहीं जानते हैं।
  • कस्टमर केयर से बताकर फोन करने वाले व्यक्ति की बातो में न आये और न ही उसे अपने वॉलेट/बैक सम्बन्धी को जानकारी साझा करें ।
  • ऑनलाईन जॉब दिलाने वाली वेबसाईट पर रजिस्ट्रेशन के उपरान्त यदि आपको फोन काल / वाट्सअप के माध्यम से चयनित होने / नौकरी प्राप्त करने के लिये धनराशि की मांग की जाती है तो सतर्क हो जायें, किसी भी प्रकार की धनराशि जमा करने से पूर्व भली प्रकार जांच (भौतिक सत्यापन) अवश्य कर लें
किसी भी साईबर शिकायत / सुझाव के लिए–
संपर्क: 0135-2655900
email- ccps.deh@uttarakhandpolice.uk.gov.in
फेसबुक – https://www.facebook.com/cyberthanauttarakhand/
“किसी भी अन्जान फोन नम्बर पर अपनी निजी जानकारी शेयर न करें”

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: