राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कोटद्वार में किया गया औषधीय पौधों का रोपण

 राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कोटद्वार में किया गया औषधीय पौधों का रोपण
15 जुलाई, 2021
                                                         
कोटद्वार । राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कोटद्वार के परिसर में गुरुवार को राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वधान में हरेला कार्यक्रम के तहत औषधीय पौधों का रोपण किया गया । जिसमें जामुन, आंवला, बहेड़ा, इमली के पौधे रोपे गए । वृक्षारोपण कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए महाविद्यालय की प्राचार्य प्रोफेसर जानकी पंवार ने विद्यार्थियों के नाम अपने संदेश में कहा कि उत्तराखंड हिमालय के निवासियों के द्वारा परंपरागत रूप से प्राचीन समय से हरेला कार्यक्रम को त्योहार के रूप में मनाया जाता रहा है जिसमें हिमालय वासियों के द्वारा पौधारोपण एवं संरक्षण का संदेश आम व्यक्ति को दिया जाता रहा है । वर्तमान परिदृश्य में आवश्यकता इस बात की है कि जहां एक और बड़े  स्तर पर वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं वही संरक्षण के अभाव में रोपित पौधे मर जाते हैं इसलिए हरेला पर्व के अवसर पर हमें पौधारोपण के साथ-साथ संरक्षण का संकल्प लेना भी अति आवश्यक है ।
उन्होंने महाविद्यालय परिसर में विगत 10 वर्षों से डॉ.क्टर किशोर चौहान के नेतृत्व में महाविद्यालय के छात्र छात्राओं द्वारा तैयार किए गए वृक्षारोपण मॉडल की प्रशंसा की । महाविद्यालय परिसर में छात्र-छात्राओं ने न केवल वृक्षारोपण किया है बल्कि ट्री गार्ड लगा करके इनका संरक्षण भी कर रहे हैं जिससे वर्तमान समय में राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कोटद्वार ग्रीन केंपस एवं क्लीन केंपस की ओर अग्रसर हैं l राष्ट्रीय सेवा योजना के वरिष्ठ कार्यक्रम अधिकारी डॉ.क्टर किशोर चौहान ने कहा कि प्रत्येक छात्र छात्रा को अपने घर, आंगन, सड़कों एवं मैदानों के किनारे तथा सरकारी भवनों एवं पार्क तथा विद्यालयों के आसपास, मंदिरों एवं धर्मशालाओं के आसपास खाली पड़ी भूमि में समूह में मिलकर वृक्षारोपण कार्यक्रम करना चाहिए तथा उसका संरक्षण करना भी आवश्यक है ।
हरेला कार्यक्रम के अवसर पर कार्यक्रम अधिकारी डॉ.क्टर संतोष गुप्ता, डॉ. अर्चना रानी, महाविद्यालय के वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ. रमेश चौहान, राष्ट्रीय सेवा योजना के श्री देव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक डॉ. सुशील बहुगुणा, डॉ. वंदना चौहान, डॉ. अनिल मान, डॉ. दया किशन जोशी, डॉ. संदीप किमोठी, डॉ. शशि वाला उनियाल, डॉ. अजीत सिंह, डॉ. सरिता चौहान, डॉ. शोभा रावत, डॉ. सुनीता रावत, डॉ. अमित जयसवाल, डॉ. शाह, डॉ. सोमेश, डॉ. अमित गौड़, डॉ. मुरलीधर कुशवाहा, डॉ. एस आर कटिहार, डॉ. सुषमा भट्ट, डॉ. देवेंद्र चौहान, डॉ. प्रवीण जोशी, डॉ. अनीता बिष्ट, डॉ. रंजना सिंह, लीला देवी, दिनेश सहित महाविद्यालय के छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे ।
 

Related post

%d bloggers like this: