विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर राठ महाविद्यालय पैठाणी में बेबीनार का हुआ आयोजन, पर्यावरण को लेकर हुई चर्चा

 विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर राठ महाविद्यालय पैठाणी में बेबीनार का हुआ आयोजन, पर्यावरण को लेकर हुई चर्चा
5 जून, 2021
                                                         

पैठाणी / पौड़ी : विश्व पर्यावरण दिवस के सुअवसर पर राठ महाविद्यालय पैठाणी में पर्यावरण विषय पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य वक्ता के रूप मे जानें माने पर्यावरणविद पदम श्री से सम्मानित श्री कल्याण सिंह रावत, Garhwal विश्र्वविद्यालय के पर्यावरण विज्ञान विभाग के वरिष्ठ professor डॉ. आर. के. मैखुरी, पूर्व निदेशक पौड़ी कैम्पस तथा भूगोल विशेषज्ञ professor के.सी. पुरोहित जी उपस्थित रहे I गोष्ठी की अध्यक्षता महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. जितेंद्र कुमार नेगी ने की I

वर्तमान पर्यावरण की दशा और दिशा पर चिंतन करते हुए, “मैती” आन्दोलन के प्रणेता कल्याण सिंह रावत ने कहा कि आज के खराब होते पर्यावरण को को नहीं संभाला गया तो स्थिति और भी भयावह हो सकती है, उन्होंने प्लास्टिक के अत्यधिक प्रयोग पर गहरी चिंता व्यक्त की उन्होंने कहा कि सामान लेने बाजार जाने झोला ले जाने के बजाये पॉलीथिन से सामान खरीदने में ज्यादा रुचि ले रही है, जबकि वह उससे पर्यावरण को होने नुकसान से परिचित भी है I “मैती” आन्दोलन को भावनाओं से जुड़ा एक संस्कार मानते हुए श्री रावत जी ने कहा कि आप भी एक वृक्ष जरूर रोपे, मुख्य अतिथि professor डॉ. ने कहा कि महज पेड़ लगाने से पर्यावरण नहीं बचेगा, इसके लिए हमको यहां की मिट्टी की भी सही परख होनी चाहिए, सरकार और अधिकारी केवल मार्गदर्शन ही दे सकते है, हमे पर्यावरण के साथ साथ विकास का भी ध्यान अवश्य रखना चाहिए, अर्थात विकास पर्यावरण परख होना चाहिए I

प्रो. के. सी. पुरोहित ने सबसे पहले संस्कृतिक पर्यावरण की बात की उनका कहना था, युगों युगों से हमारे ऋषि मुनि पर्यावरण संरक्षण को अत्यधिक महत्व देते थे यहाँ तक प्रकृति और धरती की उपासना पूजा तक कि जाती रही है I हम आज उन मूल्यों को लगातार भूल रहे हैं, गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए महाविद्यालय संस्थान के प्राचार्य डॉ. जितेन्द्र कुमार नेगी ने वर्तमान कोविड से उपजे हालतों की समीक्षा की उनका कहना था कि महामारी के उपचार/बचाव के लिये जितने भी मेडिकल संसाधनों का उपयोग किया जा रहा है वह बड़ी महामारी को जन्म देगा. गोष्टी के सफल आयोजन के लिए उन्होंने ने आमंत्रित वक्ताओं का महाविद्यालय परिवार की ओर से धन्यवाद ज्ञापित किया, गोष्ठी का संचालन डॉ. देव कृष्ण थपलियाल ने किया, कार्यक्रम में कला, शिक्षा व शारीरिक शिक्षा विभाग के अनेक छात्र- छात्राओं के साथ – साथ प्राध्यापकगन डॉ. श्याम मोहन सिंह डॉ. उमेश बंसल डॉ. अरविंद कुमार डॉ. अखिलेश कुमार सिंह डॉ. मंजीत भंडारी आदि भी उपस्थित रहे I

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: