पौड़ी गढ़वाल : राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर नए मतदाताओं को प्रमाण पत्र देकर किया जाएगा सम्मानित – डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे

 पौड़ी गढ़वाल : राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर नए मतदाताओं को प्रमाण पत्र देकर किया जाएगा सम्मानित – डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे
Posted on अक्टूबर 9, 2021 9:35 am
                                                   
पौड़ी : आगामी विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 के अन्तर्गत जनपद में स्वीप (SVEEP) गतिविधियों के सफल संचालन एवं सम्पादन हेतु शुक्रवार देर सांय विकास भवन सभागार पौड़ी में जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे की अध्यक्षता में स्वीप (सुव्यवस्थित मतदाता शिक्षा और निर्वाचक सहभागिता) की बैठक आयोजित की गयी। बैठक में स्वीप योजनाओं की समीक्षा करते हुए आगामी विधानसभा निर्वाचन के लिए व्यापक कार्यनीति हेतु स्वीप के महत्वपूर्ण पहलुओं पर व्यापक विचार-विमर्श किया गया। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों व यूथ एंबेसडर को निर्देशित किया कि 01 जनवरी, 2022 को जो लोग 18 वर्ष के हो रहे हैं, उनका फॉर्म 06 भराकर मतदाता सूची में पंजीकृत करवाएं। जिलाधिकारी ने कहा कि स्वीप के तहत जो भी जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाएंगे, उन्हें राष्ट्रीय मतदाता दिवस से पहले पूर्ण कर लें तथा किये गये कार्यों की एक पुस्तिका तैयार कर राष्ट्रीय मतदाता दिवस के दिन उसका विमोचन किया जाएगा। कहा कि राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर नए मतदाताओं को प्रमाण पत्र देकर पुरस्कृत किया जाएगा। उन्होंने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि दिव्यांग मतदाताओं (पीडब्ल्यूडी वोटर) को चिन्हित कर उनके लिए संपूर्ण व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली जाए, ताकि उन्हें दिक्कतों का सामना ना करना पड़े।

This slideshow requires JavaScript.

जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे द्वारा विधानसभा निर्वाचन-2022 के सफल सम्पादन हेतु निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के क्रम में जनपद में मतदाता शिक्षा और निर्वाचक सहभागिता(स्वीप) के अन्तर्गत किये जाने वाले विभिन्न जन जागरुकता कार्यक्रमों के लिए जनपद में स्वीप समन्वयक नामित किये हैं। उन्होंने नामित स्वीप समन्वयकों को निर्देश दिये हैं कि स्वीप गतिविधियों का कैलेंडर तैयार कर नोडल अधिकारी स्वीप/मुख्य विकास अधिकारी पौड़ी को अनिवार्य रुप से उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव के तहत मतदाताओं को जागरूक करने के लिए विभिन्न जन जागरूकता कार्यक्रम चलाए जायेंगे। इसके लिए जनपद के अलग-अलग क्षेत्रों से पांच आइकॉन चुने जाएंगे, जोकि लोगों को निर्वाचन के प्रति जागरूक करने के लिए छोटे-छोटे वीडियो संदेश बनाएंगे। साथ ही आगामी विधान सभा चुनाव के लिए मस्कट (प्रतीक चिन्ह) रखा जायेगा, जिसका चुनाव ऑनलाइन वोटिंग से किया जायेगा। उन्होंने कहा कि मतदाता जागरूकता के लिए वृहद स्तर पर हस्ताक्षर अभियान, निबंध, पेंटिंग, रैली, सेल्फ़ी अभियान, क्विज प्रतियोगिता समेत अन्य कार्यक्रम कराये जाएंगे। साथ ही विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों का सहयोग लेकर भी लोगों को मतदान के लिए जागरूक किया जाएगा।
जिलाधिकारी ने कहा कि स्वीप के तहत विभिन्न मतदाता जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन कर मतदाताओं को जागरूक करना तथा उनका नाम वोटर लिस्ट में जोड़ा जाना है। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा प्रत्येक माह चार-चार कार्यक्रम होने चाहिए, इसकी कार्ययोजना बनाकर उपलब्ध करा दें। उन्होंने निर्देशित किया कि माह अक्टूबर में किए जाने वाले कार्यक्रमों का कैलेंडर सोमवार तक नोडल अधिकारी स्वीप को उपलब्ध करा दें। उन्होंने स्वीप से जुड़े सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जो आपका दायित्व है वह आपकी जिम्मेदारी भी है। कहा कि 25 जनवरी 2022 तक सभी कार्य पूर्ण हो जाने चाहिए।
कहा कि सभी नोडल अधिकारी अपने अधीनस्थ टीम बनाकर पंजिका(फोल्डर) बना लें, जिसमें कार्यक्रमों का विवरण, फोटोग्राफ, संक्षिप्त विवरण आदि हो। कहा कि चुनाव से संबंधित 1950 टोल फ्री नंबर पर अपने पंजीकरण की जानकारी ले सकते हैं। साथ ही प्रिंट, इलेक्ट्रोनिक, सोशल मीडिया के माध्यम से कार्यक्रमों का वृहद् स्तर पर प्रचार-प्रसार करने हेतु भी टीम गठित कर ली जाय। शिक्षा विभाग को निर्देशित किया गया कि सभी महाविद्यालय, इंजीनियरिंग कॉलेज, पॉलीटेक्निक, मेडिकल कॉलेज और यूनिवर्सिटी कैंप्स में नोडल ऑफिसर नामित करते हुए उनको अगली बैठक में बुलाना सुनिश्चित करें। उन्होंने समाज कल्याण विभाग व डीडीआरसी को निर्देशित किया कि दिव्यांग मतदाताओं का चिन्हीकरण, वर्गीकरण कर डाटा तैयार कर लें तथा उनकी आवश्यकता के अनुसार उपकरण, ब्रेन लिपि की मांग कर लें। साथ ही उनको मतदान केंद्र लाने एवं घर छोड़ने हेतु वोलेंटियर नामित कर लें तथा दो दिव्यांग संस्थाओं के साथ दो जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कर लें। उन्होंने कहा कि गत निर्वाचन में कम मतदान प्रतिशत और अधिक मतदान प्रतिशत वाले बूथों का चिन्हिकरण कर सूची बना लें तथा कम मतदान प्रतिशत वाले बूथों के सभी गांवों में टीम भेजकर जागरूक करें।
उन्होंने पुलिस विभाग को कहा कि शैडो एरिया में आने वाले बूथों का चिन्हिकरण कर लें ताकि ऐसे बूथों में सूचनाओं के आदान प्रदान के लिए वहां पर कंट्रोल रूम बनाकर आवश्यक उपकरण रखे जा सकें। शिक्षा विभाग प्रत्येक विकास खंड स्तर पर बच्चो  की क्विज/पेंटिंग प्रतियोगिता तथा सपथ करवा लें। पुलिस विभाग योगा के साथ स्वीप गतिविधि कर सकते हैं। कहा कि बुजर्ग एवं मतदान केंद्र तक आने में असमर्थ मतदाताओं के लिए घर घर जाकर पोस्टल बैलेट पहुंचाने हेतु तथा प्रचार प्रसार से संबंधित सामग्री, स्टीकर डिजाइन करने आदि के लिए टीम बना लें। कहा कि ट्रैनिंग सेशन में मॉक चुनाव किया जाए। सभी कॉलेज के लिए पोर्टेबल सेल्फी प्वाइंट बना लें। चुनाव हस्ताक्षर अभियान में पोस्टर पर संबंधित का नाम, एपिक नंबर सहित हस्ताक्षर हो। अपना एपिक नंबर जाने अभियान चलाएं।
जिलाधिकारी ने कहा कि इस बार का चुनाव कोरोना के कारण विशेष चुनाव है। कहा कि मास्क पर संदेश प्रिंट करवाकर बांट सकते हैं। मतदाताओं को मतदान करने के लिए संकल्प लेने हेतु कुछ नया मोटिवेटिव करें। बल्क एसएमएस करें। कहा कि गत चुनाव में जिन बूथों में 1 या 2 प्रतिशत मतदान हुआ है या हुआ ही नहीं है उसकी सूची उपलब्ध कराएं। इस अवसर पर नोडल अधिकारी स्वीप/मुख्य विकास अधिकारी प्रशांत कुमार आर्य, उपजिलाधिकारी सदर आकाश जोशी, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी विजय तिवारी, डीपीआरओ एम एम खान, सीओ सदर प्रेम लाल टम्टा, डीओ पीआरडी गणेश थपलियाल, जिला शिक्षा अधिकारी कुंवर सिंह रावत, खेल अधिकारी अरुण बंगियाल, जिला युवा अधिकारी शैलेश भट्ट सहित संबंधित अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।
 

Related post