श्रीनगर में बहुउद्देश्यीय शिविर हुआ आयोजित, अधिकांश शिकायतों का मौके पर ही किया गया निस्तारण

 श्रीनगर में बहुउद्देश्यीय शिविर हुआ आयोजित, अधिकांश शिकायतों का मौके पर ही किया गया निस्तारण
Posted on अक्टूबर 25, 2021 6:19 pm
                                                   
पौड़ी : आमजन लोगों की समस्याओं का निस्तारण हेतु श्रीनगर अदिति वेडिंग प्वाइंट में आज बहुउद्देश्यीय शिविर का आयोजन किया गया। जिससे विभिन्न विभागों द्वारा स्टाल लगाकर लोगों  लाभान्वित किया गया, साथ ही लोगों को विभागों में संचालित योजनाओं की जानकारी भी दी गई एवं उनकी समस्याओं को भी प्राप्त करते हुए निस्तारण किया गया, आयोजित शिविर में  करीब 65 शिकायत आए जिनमें से अधिकांश शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण किया गया, बहुउद्देश्यीय शिविर में प्रदेश के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा, उच्च शिक्षा, सहकारिता, प्रोटोकॉल, आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया।  आयोजित शिविर का विधिवत शुभारंभ किया गया, जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे, मुख्य विकास अधिकारी प्रशान्त कुमार आर्य व जनप्रतिनिधि आदि गणमान्य ने भी प्रतिभाग किया। इस दौरान उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने किसानों को कृषि यंत्र तथा गर्भवती महिलाओं को वैष्णवी किट, पोषण किट वितरित किया।
आयोजित शिविर को संबोधित करते हुए उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि आमजन लोगों की समस्याओं के लिए शिविर का आयोजन किया गया। जिससे लोगों की समस्याओं का मौके पर निस्तारण किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि जनपद के हर ब्लॉक स्तर पर भी बहुउद्देश्यीय शिविरों का आयोजन किया जाएगा, जिससे लोगों को मुख्यालय के चक्कर नही काटने पड़ेंगे। साथ ही कहा कि पंचायत स्तर पर कैम्प लगाकर आधार कार्ड बनाये जाएंगे। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि जनदप गढ़वाल में 93 प्रतिशत तथा प्रदेशभर में 65 दिनों में 66 लाख लोगों ने टीकाकरण किया। कहा कि दिसम्बर माह तक शतप्रतिशत टीकाकरण किया जाएगा, उन्होंने आमजनमानस को अधिक से अधिक संख्या में टीकाकरण तथा अन्य लोगों को जागरूक करने की बात कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लगातार जनता की हितों में कार्य कर रही है। 

This slideshow requires JavaScript.

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि जब तक लोगों की समस्याओं का निस्तारण नहीं किया जाता है तब तक निरंतर रूप से शिविरों का आयोजन किया जाएगा। आयोजित शिविर में विद्युत, पेयजल, रेलवे, सड़क, बंदरों का आतंक सहित अन्य समस्याएं स्थानीय लोगों द्वारा उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत के समुख रखी गयी। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने डीएफओ को निर्देशित किया कि बंदरों से निजात पाने हेतु पिंजरा लगाना सुनिश्चित करें। साथ ही उन्होंने कहा कि नगर निगम की लॉन्चिंग तथा धारी देवी मंदिर का उद्घाटन जल्द किया जाएगा। कहा कि श्रीनगर नगर पालिका को नगर निगम घोषित होने पर विकास कार्यों में तेजी आएगी। जिससे स्थानीय लोगों को काफी फायदा मिलेगा। कहा कि मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में सरकार बेहतर कार्य करने जा रही है तथा श्रीनगर अस्पताल से अब कोई भी मरीज रेफर होकर बाहर अस्पतालों में नही जा रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि खुशियों की सवारी गर्भवती महिलाओं की जांच करवाने तथा जच्चा-बच्चा को लाने लेजाने का कार्य करेगी। उन्होंने कहा कि जल्द ही श्रीनगर से हैली सेवा शुभारंभ की जाएगी जबकि किराए काफी कम होगी जिससे लोगों को काफी फायदा मिलेगा.
उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि श्रीनगर में आयोजित बहुउद्देशीय शिविर में 18 विभागों ने प्रतिभाग किया। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि जनपद के प्रत्येक ब्लॉक व प्रत्येक नगरीय क्षेत्र में 15-30 दिनों के अंदर इस तरह के बहुउद्देश्य शिविरों का आयोजन करें। माननीय मंत्री  ने कहा कि आगामी 3 तारीख को रेलवे प्रभावित गांवों की समस्या के निस्तारण के लिए ग्रामीणों, राजस्व सचिव व कमिश्नर के साथ संयुक्त बैठक कर ग्रामीणों की समस्या का समाधान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि श्रीनगर को नगर निगम बनाया जाना एक ऐतिहासिक निर्णय हैं, श्रीनगर वर्तमान में शिक्षा और चिकित्सा का केंद्र बन गया है। नगर निगम बनने के बाद श्रीनगर के विकास में तेजी आयेगी। नगर निगम बनने के बाद श्रीनगर के स्थानीय निवासियों ओर कर्मचारियों को फायदा मिलेगा। साथ ही श्रीनगर नगर निगम बनने से 300 पर्यावरण मित्रों की संख्या होगी। साथ ही कर्मचारियों के वेतन में भी इजाफा होगा कहा कि श्रीनगर उत्तराखंड का पहला पर्वतीय नगर निगम होगा। कहा कि उड़ान योजना के अंतर्गत उत्तराखंड के कई स्थानों पर हेली सेवा प्रारंभ की गई है, इसमें श्रीनगर में भी हेली सेवा प्रारंभ की जा रही है, जिससे स्थानीय निवासियों को फायदा मिलेगा। साथ ही  उन्होंने कहा कि पेशावर  काण्ड के नायक वीर चंद्र सिंह गढ़वाली की पुण्यतिथि पर उनके गांव में बनाए गये भव्य स्मारक का लोकार्पण देश के रक्षा मंत्री, रक्षा राज्य मंत्री, प्रदेश के मुख्यमंत्री, प्रदेश के सांसद, मंत्री व जनपद के सभी विधायक उपस्थित रहेंगे।
जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने कहा कि आयोजित बहुउद्देशीय शिविर में विभागों द्वारा लगभग 20 स्टाल लगाए गए थे। विभागों के पास 60 से अधिक शिकायतें आयी, जिनमें से अधिकतर शिकायतों का निस्तारण मौके पर ही किया गया। जबकि कुछ विभागों से सबंधित शिकायतें उन्हें प्रेषित कर निर्देशित किया गया है कि शिकायतों शीघ्र निस्तारण करें। जिलाधिकारी ने बताया कि आयोजित  बहुउद्देशीय शिविर में 31 लोगों को कोविड-19 वेक्सीन लगाई गयी। 35 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। उद्यान विभाग के द्वारा 16 लाभार्थियों का पंजीकरण, आधार कार्ड के स्टॉल पर 20 लोगों का पंजीकरण, वैष्णवी पोषण किट का लाभ 80 परिवारों के बालक बालिकाओं तथा 26 लोगों ने कृषि यंत्र तथा 78 लोगों ने पशुपालन विभाग में पंजीकरण कराया। शिविर में कुल 380 लाभार्थियों को लाभान्वित किया गया। जिलाधिकारी ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि शिकायतों का तत्काल निस्तारण करें व संबंधित शिकायतकर्ता को भी जानकारी उपलब्ध कराएं। कहा कि इस तरह के शिविर सभी विकास खंडों में आयोजित किये जाएंगे, जिससे आम जनमानस की समस्याओं का समाधान किया जा सकेगा।
इस अवसर जिलाध्यक्ष भाजपा सम्पत सिंह रावत, दर्जाधारी मंत्री अतर सिंह असवाल, मुख्य विकास अधिकारी प्रशांत कुमार आर्य, पूर्व नगर पालिकाध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद टम्टा, विधायक प्रतिनिधि जय सिंह भंडारी, उपजिलाधिकारी अजयवीर सिंह, डीएफओ गढ़वाल मुकेश कुमार, जिला विकास अधिकारी वेद प्रकाश, पीडी संजीव कुमार रॉय, सीएमओ डॉ. मनोज शर्मा, एसीएमओ डॉ. जीएस तालियान, ब्लॉक प्रमुख खिर्सू भवानी गायत्री, वन क्षेत्राधिकारी अनिल भट्ट, सेवायोजन अधिकारी मुकेश रयाल, मीडिया प्रभारी गणेश भट्ट सहित अनुगृह मिश्र, विनीत पोस्ती, सुधीर जोशी आदि उपस्थित थे। आयोजित शिविर के उपरांत उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत उपजिला चिकित्सा श्रीनगर  में  पहुंचे जहां उन्होंने दीन दयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर पर अस्पताल में भर्ती मरीजों को फल वितरित कर उनका हालचाल जाना। इस अवसर पर भाजपा जिला अध्यक्ष संपत्ति है रावत सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।

Related post