अंतर्राष्ट्रीय आपदा न्यूनीकरण दिवस पर SDRF द्वारा राज्य भर में चलाया गया व्यापक जनजागरूकता अभियान

 अंतर्राष्ट्रीय आपदा न्यूनीकरण दिवस पर SDRF द्वारा राज्य भर में चलाया गया व्यापक जनजागरूकता अभियान
Posted on अक्टूबर 13, 2021 9:29 pm
                                                   
देहरादून : राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास विभाग द्वारा किया गया एक दिवसीय आपदा कार्यशाला का आयोजन, साथ ही अंतर्राष्ट्रीय आपदा न्यूनीकरण दिवस के अवसर पर SDRF उत्तराखंड पुलिस द्वारा राज्य भर में चलाया गया व्यापक जनजागरूकता अभियान. 13 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय आपदा न्यूनीकरण दिवस के अवसर पर राज्य आपदा प्रबंधन, उत्तराखंड द्वारा होटल पैसिफिक, सुभाष रोड में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें पुलिस महानिरीक्षक SDRF पुष्पक ज्योति, सेनानायक SDRF नवनीत सिंह एवं सहायक सेनानायक अनिल शर्मा द्वारा प्रतिभाग किया गया। 

This slideshow requires JavaScript.

कार्यक्रम के दौरान SDRF टीम द्वारा आपदा में राहत एवं बचाव कार्यो में प्रयोग होने वाले अतिआधुनिक उपकरणों का स्टॉल भी लगाया गया। स्टॉल के माध्यम से QDA सिस्टम, ड्रोन, विक्टिम लोकेटिंग कैमरा, एयर लिफ्टिंग बैग, अंडर वाटर ड्रोन, रेस्टट्यूब, रिमोट कंट्रोल लाइफ बोया, क्याक, सोनार सिस्टम, पावर ऐसेंडर, हैड्रोलिक रेमसेट इत्यादि उपकरणों का प्रदर्शन किया गया। SDRF जवानों द्वारा कार्यशाला में उपस्थित अन्य विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों को उपकरणो के प्रयोग व उपयोगिता के बारे में अवगत कराने के साथ ही आपदा से बचाव संबंधी पम्फलेट व SDRF पत्रिका (देवभूमि के देवदूत) का वितरण भी किया गया। SDRF टीम में निरीक्षक राजीव रावत, प्रमोद रावत, उपनिरीक्षक विजय रयाल, मनीष कन्नौजिया, विपिन बिष्ट, ASI रजनीश जुगरान व जयदेव नेगी एवं अन्य जवान मौजूद रहे। 

आपदा न्यूनीकरण दिवस पर राज्य के अनेक स्थानों में SDRF द्वारा चलाया गया जनजागरूकता अभियान

SDRF उत्तराखंड पुलिस द्वारा आपदा न्यूनीकरण हेतु राज्य भर के विभिन्न स्थानों जैसे नेशनल एसोसिएशन फॉर द ब्लाइंड, हल्द्वानी नैनीताल, तहसील कोसिया पटोली, नैनीताल, जनता इंटर कॉलेज रुद्रपुर, जवाहर लाल नवोदय विद्यालय, हरिद्वार, राजकीय इंटर कॉलेज तपोवन, राजकीय इंटर कॉलेज गंगोरी, उत्तरकाशी,  राजकीय इंटर कॉलेज मूनाकोट, डीडीहाट पिथौरागढ इत्यादि में व्यापक स्तर पर जनजागरूकता अभियान चलाये गए।

Related post