स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत के सम्मुख विधायकों ने रखी विशेषज्ञ चिकित्सकों की मांग, कहा जिला अस्पतालों में नहीं है रेडियोलाजिस्ट,गायनोलाजिस्ट व टेक्निशियन

 स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत के सम्मुख विधायकों ने रखी विशेषज्ञ चिकित्सकों की मांग, कहा जिला अस्पतालों में नहीं है रेडियोलाजिस्ट,गायनोलाजिस्ट व टेक्निशियन
14 जुलाई, 2021
                                                         
चमोली, रूद्रप्रयाग एवं पौड़ी के विधायकों को विभागीय मंत्री ने दिया आश्वासन
देहरादून : सूबे की स्वास्थ्य सेवाओं को पटरी पर लाने के लिए चलाये जा रहे विशेष अभियान के तहत आज चिकित्सा स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने चमोली, रूद्रप्रयाग व पौड़ी के क्षेत्रीय विधायकों के साथ मंत्रणा कर स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहत्तर बनाने का आश्वासन दिया। विधायकों ने विभागीय मंत्री के सम्मुख जिला चिकित्सालयों एवं संयुक्त चिकित्सालयों में विशेषज्ञ चिकित्सकों एवं टेक्नीशियनों की भारी कमी होने की जानकारी दी। जिस पर विभागीय मंत्री ने बताया कि सरकार विशेषज्ञ चिकित्सकों एवं अन्य पैरा मेडिकल स्टाफ की शीघ्र तैनाती करने जा रही है। 
आज विधानसभा स्थिति सभागार में तीन जनपदों की स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा बैठक में विभागीय मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने संबंधित विधायकों से उनके क्षेत्र की स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं सुनी। जिस पर विधायकों ने अधिकतर चिकित्सालयों में विशेषज्ञ चिकित्सकों, रेडियोलाजिस्ट, गायनोलाजिस्ट, कार्डियोलाजिस्ट व एक्स-रे टेक्निशियनों की भारी कमी बताई। इसके अलावा प्राथमिक चिकित्सालयों का बी श्रेणी में उच्चीकरण तथा कई स्थानों पर जनसंख्या के अनुरूप संयुक्त चिकित्सालयों के रूप में उच्चीकरण की भी मांग रखी। विधायकों द्वारा जनपद स्तर के चिकित्सालयों में अल्ट्रासाउंड तथा एमआरआई मशीनें लगाई जाने की मांग रखी।
जिस पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने विधायकों को आश्वासन दिया कि तीन माह के भीतर पर्वतीय क्षेत्र के स्वास्थ्य सेवाओं में काफी सुधार नजर आयेगा। इसके लिए सरकार ने उच्चाधिकारियों को चिकित्सालयों में रिक्त चिकित्सकों, स्टाफ नर्स, एएनएम और टैक्निशियनों के पदों पर शीघ्र तैनाती के निर्देश दे दिये हैं। उन्होंने बताया कि कोविड की संभावित तीसरी लहर के मध्यनजर सभी मुख्य चिकित्साधिकारियों को वैश्विक महामारी से निपटने के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं करने के निर्देश दिये गये हैं। जिसके तहत जनपद के अस्पतालों में आईसीयू बेड, पीआईसीयू, निक्कू वार्ड तथा आक्सीजन सपोर्टेड बेडों की संख्या बढ़ाने के साथ ही दवाओं की पर्याप्त व्यवस्था रखने को कहा गया है। इसके अलावा क्षेत्रीय विधायक की अध्यक्षता में प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 10-10 स्वास्थ्य शिविर आयोजित करने व वैक्सीनेशन बढ़ाने को कहा गया है। बैठक में रूद्रप्रयाग विधायक भरत चौधरी, केदारनाथ विधायक मनोज रावत, थराली विधायक मुन्नी देवी शाह, लैंसडाउन विधायक दलीप रावत, पौड़ी विधायक मुकेश कोली, यमकेश्वर विधायक ऋतु खंडूडी, सचिव स्वास्थ्य डा. पंकज पाण्डेय, चौबट्टाखाल विधायक के प्रतिनिधि राय सिंह नेगी सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे। 

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: