उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत ने किया सुदूरवर्ती उर्गम घाटी में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं और आपदाग्रस्त क्षेत्रों का स्थलीय निरीक्षण, दिए दिशा निर्देश

 उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत ने किया सुदूरवर्ती उर्गम घाटी में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं और आपदाग्रस्त क्षेत्रों का स्थलीय निरीक्षण, दिए दिशा निर्देश
22 मई, 2021
                                                         

चमोली : उच्च शिक्षा एवं जनपद के प्रभारी मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने अपने चार दिवसीय चमोली भ्रमण कार्यक्रम के दूसरे दिन सुदूरवर्ती उर्गम घाटी में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं और आपदाग्रस्त क्षेत्रों का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान प्रभारी मंत्री डॉ. धनसिंह रावत ने देवग्राम, उर्गम बर्गिंडा ,ल्यारी थेणा, भेंटा, भर्की, सलना आदि गांवों में लोगों हालचाल पूछा और जन प्रतिनिधियों से मुलाकात कर जन समस्याएं सुनी। उन्होंने कहा कि इन दिनों कोविड संक्रमण के अलावा वायरल बुखार का प्रकोप भी हैं।

उच्च शिक्षा एवं जनपद के प्रभारी मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि गांव में सभी लोगों को टेस्टिंग अवश्य करानी चाहिए। ताकि समय पर बीमारी का पता लग सके और उचित इलाज हो सके। उन्होंने स्वास्थ्य कार्मिकों को ग्रामीण क्षेत्रों में टेस्टिंग बढाने तथा हर जरूरतमंद तक औषधि किट उपलब्ध कराने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए किसी प्रकार की कमी नही होने दी जाएगी। इस दौरान प्रभारी मंत्री डॉ. धनसिंह रावत ने कोविड संक्रमण के बचाव के लिए ग्रामीणों को सेनेटाइजर बांटे और उर्गम घाटी में राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया।

भ्रमण के दौरान भाजपा जिला अध्यक्ष रघुबीर सिंह बिष्ट, चमोली जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष गजेंद्र सिंह रावत, सांसद प्रतिनिधि किशोर सिंह पंवार, मंडल अध्यक्ष जगदीश प्रसाद सती, राजेंद्र सिंह नेगी, रघुवीर सिंह नेगी, पूर्व प्रधान एवं जनदेश के अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह नेगी, विजय सेमवाल आदि सहित अन्य क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि व पार्टी कार्यकर्ता मौजूद थे।

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: