शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय ने उत्तराखंड के अटल उत्कृष्ट विद्यालयों का किया वर्चुअल शुभारंभ

 शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय ने उत्तराखंड के अटल उत्कृष्ट विद्यालयों का किया वर्चुअल शुभारंभ
9 जुलाई, 2021
                                                         
चमोली : प्रदेश में विद्यालयी शिक्षा व्यवस्था का उच्च आयाम स्थापित करने तथा आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के बच्चों को भी अंग्रेजी माध्यम में पढाई का अवसर प्रदान करने के उदेश्य से प्रदेश सरकार की पहल पर शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय ने नैनीताल जिले के राजकीय इंटर काॅलेज कालाढूंगी से शुक्रवार को प्रदेश के अटल उत्कृष्ट विद्यालयों का वर्चुअल शुभारंभ किया। जिसमें चमोली जिले के 18 में से 15 विद्यालय शामिल है।
इस अवसर पर पोखरी ब्लाक के राइका रडुंवा चांदनी खाल में बद्रीनाथ विधायक महेन्द्र प्रसाद भट्ट ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभांरभ किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के शैक्षणिक कार्यो में उत्कृष्टता लाने व शैक्षिक गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए सीबीएसई बोर्ड से संबद्ध अंग्रेजी व हिन्दी दोनों माध्यम से अटल उत्कृष्ट विद्यालयो को संचालित किया जा रहा है।
कार्यक्रम के दौरान राइका सिमली में मुख्य शिक्षा अधिकारी ललित मोहन चमोला एवं खण्ड शिक्षा अधिकारी कर्णप्रयाग कैना चैहान ने दीप प्रज्ज्वलित किया। मुख्य शिक्षा अधिकारी ने बताया कि चमोली जिले के 18 विद्यालय इसके लिए चयनित हुए है जिनमे से 15 विद्यालयों का आज शिक्षा मंत्री अरविन्द पाण्डेय द्वारा शुभारम्भ किया गया है। शेष तीन विद्यालयों की मान्यता मिलने के बाद इन्हें भी अटल उत्कृष्ट विद्यालयों में शामिल कर दिया जाएगा। इन सभी 15 विद्यालयों में इसी सत्र से प्रवेश भी शुरू कर दिया गया है।
खण्ड शिक्षा अधिकारी कैना चैहान ने बताया कि हरेला पखवाड़े के तहत विद्यायल में आज सूबे के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, शिक्षा मंत्री अरविन्द पाण्डेय एवं क्षेत्रीय विधायक सुरेंद्र सिंह नेगी के नाम से वृक्षारोपण किया गया। इसका उद्देश्य पर्यावरण को साफ व प्रकृति को सुन्दर बनाना है।
राइका सिमली के प्रधानाचार्य जीएस पंवार ने खुशी जताते हुए कहा कि अटल उत्कृष्ट विद्यालय के लिए राइका सिमली का चयन होना गौरव की बात है। इससे बच्चो को 6 से 12 तक अंग्रेजी व हिंदी दोनों माध्यम से पढने का सुनहरा अवसर मिलेगा। पहाड़ो से शिक्षा के नाम से हो रहे पलायन को रोकने में उत्तराखंड सरकार की यह पहल संजीवनी साबित होगी। साथ ही सामाजिक और आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के बच्चो को भी अन्य बच्चो की तरह अंग्रेजी माध्यम में पढ़ने का मौका मिलेगा।
इस अवसर पर मुख्य शिक्षा अधिकारी ललित मोहन चमोला, खंड शिक्षा अधिकारी कैना चैहान, प्रधानाचार्य जी0 एस0 पंवार, विधायक प्रतिनिधि देवेन्द्र नेगी, वरिष्ठ प्रवक्ता बी0 एन0 डिमरी, अभिवाहक संघ के अध्यक्ष सतेंद्र चैहान, क्षेत्र पंचायत सदस्य सन्दीप डिमरी सहित विद्यालय के शिक्षक एवं शिक्षणोत्तर कार्मिक मौजूद थे।
विदित हो कि चमोली जनपद के गैरसैंण ब्लाक में राइका रोहिडा व नंदासैंण, पोखरी ब्लाक में राइका रडुवा व नागनाथ, जोशीमठ ब्लाक में राइका उर्गम व तपोवन, घाट ब्लाक में राइका सितेल व घाट, नारायणबगड ब्लाक में राइका कोठली व गडकोट, थराली ब्लाक में राइका डुंग्री व तलवाडी, देवाल ब्लाक में राइका मुन्दोली व देवाल तथा कर्णप्रयाग ब्लाक में राइका सिमली को अटल उत्कृष्ट विद्यालय के रूप में शुभारंभ किया जा चुका है। जबकि कर्णप्रयाग ब्लाक में राइका नैनीसैंण तथा दशोली ब्लाक के राइका गडोरा व गोपेश्वर में सीबीएसई की मान्यता मिलनी बाकी है।  
 



Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: