पर्यटन सर्किट बनने से पर्यटकों की संख्या में तेजी से होगी बढ़ोतरी, लोगों को मिलेगा स्वरोजगार – उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत

 पर्यटन सर्किट बनने से पर्यटकों की संख्या में तेजी से होगी बढ़ोतरी, लोगों को मिलेगा स्वरोजगार – उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत
16 जून, 2021
                                                         

श्रीनगर : प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने महिला पुलिस थाना सभागार श्रीनगर में आज कमलेश्वर – धारीदेवी-देवलगढ़-खिर्सू-कण्डोलिया मंदिर, तथा क्यूंकालेश्वर मंदिर पौड़ी को धार्मिक/पर्यटन सर्किट बनाने की कयावद शुरू कर दी। जिसके तहत उन्होने मंदिरों के पुजारी, जन प्रतिनिधि तथा संबंधित अधिकारियों की बैठक ली।

पर्यटन विभाग के कार्यदायी संस्थान द्वारा तैयार किये गये डीपीआर/डिजाइन का उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत को अवलोकन कराते हुए पर्यटन सर्किट के तहत मंदिरों आदि परिसर क्षेत्रों में होने वाले कार्यो से अवगत कराया। जिस हेतु उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत ने जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि शीघ्र निर्माण कार्यो के गति देना सुनिश्चित करें। वहीं संबंधित मंदिरों के पुजारियों को कार्यो की डिजाइन अवलोकन कराते हुए, कहा कि छूटे अथवा जोड़े जाने वाले कार्यों को शीघ्र जिला पर्यटन अधिकारी को बता दे, ताकि समय रहते कार्यो को सही स्वरूप दिया जा सकें। उन्होंने पर्यटन सर्किट के डिजाइन का अवलोकन करते हुए जिला पर्यटन अधिकारी को संबंधित पुजारी एवं बुद्धिजीवियों से वार्ता करते हुए अंतिम रूप देने को कहा। इस दौरान उन्होने मेरिनड्राइव एवं ठंडी सड़क के डिजाइन का भी अवलोकन करते हुए, डिजाइन का चयन करते हुए सहमति प्रदान की।

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत ने कहा कि विकास की सतत प्रक्रिया चलती रहे यहीं उनकी मंशा है, कहा कि उन्होने अपने कार्यकाल में लंबित पडे़ पेयजल पंपिंग योजना तथा अस्पतालों का निमार्ण कर लोकार्पण किया है, वहीं बच्चों के लिए स्कूलों को चटाई मुक्त करके सुविधा मुहैया किया है। इस तरह के कार्य वे निरंतर करते रहेगें जिससे जन समुदाय को लाभ मिल सकें, उन्होने कहा कि श्रीनगर विधान सभा के गांवों में पुस्तकालय बनाये जा रहे है, तथा कोई भी निरक्षर न हो उनके लिए साक्षर कार्यक्रम का शुभारंभ करने जा रहे है।

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत ने कहा कि पर्यटन सर्किट बनने से श्रीनगर रूट से गुजरने वाले पर्यटकों को दो तीन दिन की टूर पैकेज बनाकर खिर्सू में रहने हेतु आकर्षित करेंगे। सर्किट की महत्वता से पर्यटक खींचा चले आयेगें। खिर्सू से वृहंग हिमालय के दर्शन के साथ पर्यटन सर्किट की सुविधा मुहैया होने पर आने वाले पर्यटक दो, तीन दिन तक क्षेत्र में विचरण करेंगे। जिससे यहां के लोगों को स्वरोजगार अवसर मिल सकेगा। कहा कि इस बार खिर्सू में 5 लाख से अधिक पर्यटक पहुच चुके। जो कि पर्यटन सर्किट बनने से पर्यटकों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी होगी। इस अवसर पर पुजारी, जन प्रतिनिधि एवं अधिकारियों से अपना विचार रखते हुए सुझाव भी दिया तथा उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत के दूरगामी सोच के साथ कार्य करने की कौशलता को लेकर आभार व्यक्त किया। वहीं उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धनसिंह रावत को पुजारी द्वारा चुनरी ओढाकर सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर जिला अध्यक्ष भाजपा/पूर्व प्रमुख संपत सिह रावत सरल, प्रदेश सहकारिता संघ अध्यक्ष मातवर सिह रावत, पूर्व पालिकाध्यक्ष गिरीश पैन्युली, अपर जिलाधिकारी डॉ. एस. के. बरनवाल, पुजारी कमलेश्वर मंदिर महंत आशुतोष पुरी, मुकेश चमोली, देवलगढ़ मंदिर पुजारी कुंजिका प्रसाद उनियाल, धारीदेवी मंदिर पुजारी लक्ष्मी प्रसाद पाण्डेय, विवेक पाण्डेय, उपजिलाधिकारी रविन्द्र बिष्ट तथा सीओ एस.डी. नौटियाल, सहायक अभियंता गढ़वाल मण्डल अजय दिवाकर, अर्किटेक अक्षय अग्रवाल सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: