आपदा प्रभावित परिवारों से मिलें डीएम मयूर दीक्षित, हर संभव मदद देने का दिया भरोसा

 आपदा प्रभावित परिवारों से मिलें डीएम मयूर दीक्षित, हर संभव मदद देने का दिया भरोसा
19 जुलाई, 2021
                                                         
उत्तरकाशी (कीर्तिनिधी सजवाण):  विकासखण्ड भटवाड़ी के मांडो व कंकराड़ी गांव में बीती रात भारी बारिश के कारण जानमाल का नुकसान हुआ है। जिसमें तीन लोगों की मृत्यु हुई है और तीन लोग घायल हुए है। घायलों का उपचार जिला चिकित्सालय में किया गया है जो अब खतरे से बाहर हैं।  जिलाधिकारी  मयूर दीक्षित ने आज प्रातः घटना स्थल का स्थलीय निरीक्षण कर हालात का जायजा लिया।
जिलाधिकारी मांडो व कंकराड़ी गांव जाकर आपदा प्रभावित परिवारों से मिले व प्रशासन की ओर से हर संभव मदद देने का भरोसा दिया। जिलाधिकारी ने मौके पर तैनात अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अतिव्रिष्टि के कारण खतरे की जद में आये आवसीय मकानों को तत्काल खाली करवाया जाय। पीड़ित परिवारों को नजदीकी सरकारी भवन में शिफ्ट करने के निर्देश दिए। पीड़ित परिवारों के रहने व खाने पीने की समुचित व्यवस्था करने के साथ ही रसद वितरित करने के निर्देश जिला पूर्ति अधिकारी को दिए। अवरूद्ध सड़क मार्गो व पैदल रास्तों को आवागमन हेतु सुचारू करने के निर्देश दिए। गांव की पेयजल लाईनों एंव विद्युत आपूर्ति को युद्ध स्तर पर बहाल करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। साथ ही फसल आदि क्षति का आकलन के निर्देश राजस्व व मुख्य कृषि अधिकारी को दिए।
प्राकृतिक आपदा में श्रीमती माधुरी पत्नी  देवानन्द उम्र 42 वर्ष निवासी मांडो, श्रीमती रीतू पत्नी  दीपक उम्र 38 वर्ष निवासी मांडो, कुमारी ईशु पुत्री दीपक उम्र 6 वर्ष ग्राम मांडो की मौत हुयी  है। जबकि गणेश बहादुर पुत्र काली बहादुर, रविन्द्र पुत्र गणेश बहादुर, रामबालक यादव पुत्र मकुर यादव हाल निवास मांडो घायल हुए है जिनका उपचार जिला चिकित्सालय में किया गया है और खतरे से बाहर हैं। वहीं कंकराड़ी में एक व्यक्ति लापता होना भी बताया जा रहा है।  मांडो व कंकराड़ी गांव में आवसीय भवन  क्षतिग्रस्त हुए है जिनका आंकलन किया जा रहा है। वर्तमान तक मांडों में दो, कंकराड़ी में भी दो व एक भवन निराकोट में क्षतिग्रस्त हुए है कि पुष्टि हुई है। निरीक्षण के दौरान पुलिस अधीक्षक मंणीकांत मिश्रा, एसडीएम देवेन्द्र नेगी, ईई विद्युत मनोज गुसांई, जिला पूर्ति अधिकारी आरती भट्ट, जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी देवेन्द्र पटवाल, सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: