हरेला पर्व पर डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे, जिला स्तरीय अधिकारीयों एवं ग्रामीणों ने ग्रामसभा बालमणा में 120 आम के फलदार पौधों का किया रोपण

 हरेला पर्व पर डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे, जिला स्तरीय अधिकारीयों एवं ग्रामीणों ने ग्रामसभा बालमणा में 120 आम के फलदार पौधों का किया रोपण
16 जुलाई, 2021
                                                         
पौड़ी : जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे की अध्यक्षता में आज हरेला पर्व के अवसर पर जनपद के विकासखण्ड कोट के अन्तर्गत ग्रामसभा बालमणा में जिला स्तरीय अधिकारी एवं ग्रामीणों ने उद्यान विभाग के तत्वाधान में करीब 120 आम के फलदार वृक्षारोपण किया।  जिलाधिकारी  ने ग्रामीणों को स्थानीय स्तर पर होने वाले उच्च प्रजाती के फलदार पौधा लगाकर कास्त को बढ़वा देने को कहा। हर न्याय पंचायत में फलदार, वृक्ष के बागवानी,एवं चारापत्ती वृक्ष लगाने को कहा ताकि पशु के लिए चारा पत्ती भी प्राप्त हो सकेें। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी का गांव में स्वागत अभिनंदन कर, ग्राम सभा आगमन पर आभार जताया।
वृक्षारोपण एवं ग्रामसभा के भ्रमण निरीक्षण के उपरान्त जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने ग्राम सभा की पंचायत भवन में प्रधान मीनादेवी की अध्यक्षता में संबंधित अधिकारियों एवं ग्रामीणों के साथ ग्राम सभा की बैठक ली। जहां ग्रामीणों ने गांव में हुए विकास कार्यो से जिलाधिकारी को रूबरू कराते हुए विद्युत, सड़क एवं खेतों की घेरबाड़ की मांग रखी। जिस पर कार्यवाही करते हुए जिलाधिकारी ने मौके पर उपस्थित अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए समस्या का निस्तारण किया। उन्होने कोविड 19 से बचाव हेतु भेजे गये औषधि इत्यादि की जानकारी ली, तथा ग्रामीणों को कोरोना के प्रति सावधानी बरतने को कहा। जबकि कहा कि भविष्य में स्वास्थ्य उपकरण एवं दवाई की आवश्यकता पड़ने पर सीएमओ से मांग करें उपलब्ध करा दी जायेगी।

This slideshow requires JavaScript.

ग्रामीणों द्वारा जिलाधिकारी से दामली एवं बालमणा कीे ढाई-ढाई किलोमीटर की सड़कों के डामरीकरण तथा मुआवजा देने की मांग की गई, जिसका संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए शीघ्र निस्तारण करने के निर्देश दिये। कुछ व्यक्तियों द्वारा पेंशन का प्रमाण पत्र तथा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास बनाने की बात कही। जिलाधिकारी ने कहा कि आवास बनाने हेतु जांच की गई है तथा उनका प्रस्ताव भी स्वीकृत हो रखा है। कहा कि इसी वर्ष आवास का निर्माण कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा। उन्होने जल जीवन मिशन के तहत कार्य प्रगति की जानकारी लेते हुए कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये। साथ ही कहा कि किसी समूह अथवा व्यक्ति विशेष को कृषि फार्मा उपकरण रखना चाहिए जिससे उनकी अच्छी आमदनी हो सकेगा। कृषि उपकरण लेने में सरकार द्वारा अनुदान दिया जाता है। उन्होने कृषि भूमि की घेरबाड पर संबंधित अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। जबकि बैठक में 5 वर्ष के बालक सागर को दिव्यांग प्रमाण पत्र हेतु संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये। उन्होने कहा सभी को मिलजुल कर कार्य करने की जरूरत है। तांकि कृषि कार्य को बढ़ावा मिल सकें। संबंधित विभाग से अपनी योजना के अनुसार लाभ लेकर सरकार की महत्वकांक्षी योजना लाभ उठाये। उन्होने नियमित रूप में ग्राम सभा के बैठक करने के निर्देश दिये जिसमें तमात तरह के समस्या एवं विकास कार्य को कार्य योजना में लाये।
ग्राम प्रधान द्वारा जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि ग्राम पंचायत बालमणा के अन्तर्गत जल जीवन मिशन के तहत प्रथम चरण में बालमणा गांव में 62 परिवार तथा दामली गांव में 22 परिवारों के घरों में नल के कनेक्शन जोड़ दिये गये हैं। जबकि द्वितीय चरण में हर घल में जल हेतु कार्ययोजना का कार्य प्रगति पर चल रहा है। बताया कि जल जीवन मिशन के तहत ग्राम पंचायत में समिति का गठन भी हो चुका है।
अपर जिलाधिकारी डॉ. एस के बरनवाल ने अपने संबोधन में कहा कि पहले भी खेती होती थी जानवर होते थे, उस दौरान लोगों की फसल के नुकसान नही होती थी, क्योकि लोग वृहद स्तर पर खेती करते थे, इसी तरह आज भी सभी को अपने बंजर भूमि को आवाद करने की जरूरत है। जिससे अच्छी स्वरोजगार होगी, कहा कि सरकार हर स्तर स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए कार्य कर रहे है। सरकारी योजना का अधिक से अधिक लाभ लेकर कृषि, पशुपालन, बागवानी, मौन पालन कुकड पालन सहित तमात तरह की योजना का लाभ ले सकते है। 
इस दौरान उपजिलाधिकारी, मुख्य उद्यान अधिकारी, मुख्य कृषि अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी एवं जिला पूर्ति अधिकारी द्वारा भी ग्रामीणों को विभाग में संचालित योजना की विस्तृत जानकारी दी गई। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी पौडी श्याम सिंह राणा, जिला विकास अधिकारी वेद प्रकाश, जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी, मुख्य उद्यान अधिकारी डॉ नरेन्द्र कुमार, मुख्य कृषि अधिकारी देवेन्द्र सिह राणा, जिला पंचायत राज अधिकारी एम एम खान एवं जिला पूर्ति अधिकारी के एस कोहली, जिला मत्स्य अधिकारी अभिषेक मिश्रा, सहित अन्य अधिकारी, जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीण उपस्थित थे।

Related post

%d bloggers like this: