जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी ने ग्रामीणों को राज्य सरकार की ध्वजवाहक योजनाओं की जानकारी देकर स्वरोजगार के क्षेत्र में आत्म निर्भर बनने के लिए किया प्रेरित

 जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी ने ग्रामीणों को राज्य सरकार की ध्वजवाहक योजनाओं की जानकारी देकर स्वरोजगार के क्षेत्र में आत्म निर्भर बनने के लिए किया प्रेरित
25 जून, 2021
                                                         

पौड़ी : जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी पहुंचे जनपद के दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में, गोष्ठी, बैठक इत्यादि का आयोजन कर ग्रामीणों को राज्य सरकार की ध्वजवाहक योजनाओं की जानकारी देकर स्वरोजगार के क्षेत्र में आत्म निर्भर बनने के लिए कर रहे है प्रेरित। आज अपने निर्धारित कार्यक्रम के तहत विकास खण्ड यमकेश्वर के दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्र पल्ली गांव, परेल, माला तथा सेरा आदि गांव में पर्यटन के सम्भावना को दृष्टिगत रखते हुए विभाग में राज्य सरकार द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं के विस्तृत जानकारी दिये। साथ ही उपस्थित ग्रामीणों को मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के बारे में जानकारी देते हुए अपनी स्वरोजगार स्थापित करने के टिप्स दिये। वहीं आवेदन प्रक्रिया इत्यादि बैंक से संबंधित कार्यों की जानकारी दी। कहा कि जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे के कुशल नेतृत्व में जनपद में स्वरोजगार के क्षेत्र में तेजी से कार्य किये जा रहे है। लोगों को सरकारी योजनाओं की स्पष्ट जानकारी प्रदान करते हुए स्वरोजगार के प्रति प्रोत्साहित किया जा रहा है।

गौरतलब है कि जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे के दिशा निर्देश पर जनपद में राज्य सरकार की ध्वजवाहक योजनाओं को धरातल पर लाने हेतु रेखीय विभाग के अधिकारी कार्य में जुटी है। शुक्रवार को जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी ने विकास खण्ड यमकेश्वर के दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्र पल्ली गांव, परेल, माला तथा सेरा आदि गांव में ग्रामीणों को दीनदयाल उपाध्याय आवास गृह योजना एवं वीरचन्द्र सिह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना से संबंधित जानकारी दी गई। उन्होने ग्राम सभा परिसर में ग्रामीणों के साथ गोष्ठी, बैठक इत्यादि का आयोजन कर राज्य सरकार की कल्याणकारी योजना की जानकारी दी। दीनदयाल उपाध्याय गृह आवास (होमस्टे) योजना की जानकारी देते हुए कहा कि अपने पुराने घरों का जीर्णोद्वार कर नये स्वरूप में विकसित करें। जिसमें आने वाले पर्यटकों को सुविधा विद्यमान हो। साथ ही परिसर में किचन गार्डन व फुलवारी आदि विकसित करें जिससे कि पर्यटकों में आकर्षण बनी रहे। कहा कि होमस्टे योजना पर राज्य सरकार विभाग के माध्यम से सहायता प्रदान करती है। जिसकी उन्होने विस्तृत जानकारी दी। साथ ही उन्होने आवेदन करने की सभी जानकारी देते हुए कहा कि विभाग आवेदकों के सहयोग के लिए तत्पर है।

वहीं उन्होने वीरचन्द्र सिह गढ़वाल पर्यटन स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत विभिन्न योजना की जानकारी देते हुए कहा कि उक्त योजना के अन्तर्गत संचालित योजनाओं पर राज्य सहायता सुविधा भी प्राप्त कर सकते है। उन्होने कहा कि यह क्षेत्र साल भर पर्यटकों से गुलजार रहता है। यहां होमस्टे, होटल, गेस्ट हाउस, टेंट कालोनी, योगा, मेडिटेशन स्थल आदि का सृजन कर अपने स्वरोजगार को और अधिक मजबूत बना सकते है। यहीं नही आप अपने अलावा अन्य कई बेरोजगार लोगों को रोजगार भी दे सकेंगे। कहा कि अपने कौशल के अनुसार योजना का चयन कर विभाग के साइट पर ऑनलाइन आवेदन करें। मांगे गए दस्तावेज संकलित करें। उन्होंने उपस्थित लोगों को स्वरोजगार स्थापित कर आत्मनिर्भर बनने को कहा। उन्होने विभाग में संचालित योजनाओं की बारीकी से जानकारी देते हुए योजना एवं उनसे होने वाले फायदे के बारे में विस्तृत जानकारी दी। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के बारे में भी जानकारी देते हुए उक्त योजना से भी लाभान्वित होने के लिए प्रेरित किया।

इस दौरान ग्रामीणों ने स्वरोजगार हेतु जिला पर्यटन विकास अधिकारी से चर्चा कर सवालों का हल जाना। वहीं ग्रामीणों ने जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी का स्वागत अभिनंदन कर, सरकार की महत्वकांक्षी योजना की जानकारी से रूबरू कराने पर आभार व्यक्त किया। इस दौरान महेंद्र, कमल, राकेश व स्थान माला में अमर सिंह, जितेंद्र सिंह, बलवंत सिंह रावत, शक्ति सिंह राणा, होशियार सिंह, संदीप सिंह, महेंद्र सिंह रावत, जयपाल सिंह नेगी, देवराज सिंह सूरज सिंह राणा, गजेंद्र सिंह राणा, धर्मपाल सिंह राणा, दिनेश सिंह राणा, बचन सिंह राणा, सुंदर सिंह राणा, सुरेंद्र सिंह, शेखर सिंह व मातवर सिंह राणा सहित अन्य लोगों को वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना एवं अतिथि गृह आवास होमस्टे योजना एवं दीनदयाल उपाध्याय गृह आवास होमस्टे विकास योजना के फार्म वितरण किया गया।

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: