जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी ने ग्राम कांडीखंड के ग्रामीणों को स्वरोजगार के क्षेत्र में आत्म निर्भर बनने के लिए किया प्रेरित

 जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी ने ग्राम कांडीखंड के ग्रामीणों को स्वरोजगार के क्षेत्र में आत्म निर्भर बनने के लिए किया प्रेरित
Posted on अक्टूबर 13, 2021 4:22 pm
                                                   

पौड़ी : जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ विजय कुमार जोगदण्डे के दिशा निर्देशन पर, आज जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी ने जनपद के विकासखण्ड यमकेश्वर के ग्राम कांडीखंड पहुंच कर ग्रामीणों को गोष्ठी/बैठक आदि के माध्यम से विभाग मे राज्य सरकार की पर्यटन विकास से जुड़ी रोजगार परक योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी। साथ ही गत 35 वर्ष से पर्यटन व्यवसाय से जुड़े मणि शंकर घोष, एवं व्यासघाट के होमस्टे संचालक आलम सिंह ने भी जिला पर्यटन अधिकारी के साथ अपना सहयोग देते हुए स्वरोजगार के क्षेत्र में पर्यटन विभाग की रोजगार परक योजना की जानकारी देते हुए उनसे होने वाले लाभ के बारे में लोगों को प्रेरित करने में अपना अहम योगदान दिया। ग्रामीणों को दीनदयाल उपाध्याय अतिथि गृह आवास होम स्टे योजना एवं वीर चंद्र सिंह गढ़वाली स्वरोजगार योजनाओं की जानकारी देते हुए उन्होंने सभी होमस्टे, होटल को पर्यटन विभाग में पंजिकृत कराने तथा बाहर से आने वाले पर्यटकों को कोविड 19 के गाइड लाइन का अनुपालन करने के दिशा-निर्देश दिए।

This slideshow requires JavaScript.

जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी ने ग्रामीणों को स्वरोजगार के क्षेत्र में आत्म निर्भर बनने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने विकास खण्ड यमकेश्वर के ग्रामीण क्षेत्र कांडी खण्ड गांव में पर्यटन की सम्भावना को दृष्टिगत रखते हुए विभाग में राज्य सरकार द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं के विस्तृत जानकारी देते हुए लाभ उठाने को कहा। साथ ही उपस्थित ग्रामीणों को मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के बारे में भी जानकारी देते हुए अपना स्वरोजगार स्थापित करने की फायदे भी बताये। उन्होंने योजना का लाभ लेने हेतु आवेदन प्रक्रिया इत्यादि बैंक से संबंधित कार्यों की जानकारी दी। कहा कि जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे के कुशल नेतृत्व में जनपद में स्वरोजगार के क्षेत्र में तेजी से कार्य किये जा रहे है। लोगों को सरकारी योजनाओं की स्पष्ट जानकारी प्रदान करते हुए स्वरोजगार के प्रति प्रोत्साहित किया जा रहा है।उन्होंने ग्रामीणों को दीनदयाल उपाध्याय आवास गृह योजना एवं वीरचन्द्र सिह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना से संबंधित जानकारी दी गई।

उन्होंने ग्राम सभा में ग्रामीणों के साथ बैठक का आयोजन कर राज्य सरकार की कल्याणकारी वीर चन्द्र सिह गढ़वाली वाहन तथा गैर वाहन योजना ,दीनदयाल उपाध्याय गृह आवास (होमस्टे) योजना की जानकारी देते हुए कहा कि अपने पुराने घरों का जीर्णाेद्वार कर नये स्वरूप में विकसित करें। जिसमें आने वाले पर्यटकों को सुविधा मिल सके। साथ ही उन्होने आवेदन करने की सभी जानकारी देते हुए कहा कि विभाग आवेदकों के सहयोग के लिए तत्पर है। उन्होने कहा कि यह क्षेत्र साल भर पर्यटकों से गुलजार रहता है। यहां होमस्टे, होटल, गेस्ट हाउस, टेंट कालोनी, आदि का सृजन कर अपने स्वरोजगार को और अधिक मजबूत बना सकते है ओर अन्य कई बेरोजगार लोगों को रोजगार भी दे सकेंगे। कहा कि अपने कौशल के अनुसार योजना का चयन कर विभाग के साइट पर ऑनलाइन आवेदन करें तथा मांगे गए दस्तावेज संकलित करें।

इस दौरान ग्रामीणों ने स्वरोजगार हेतु जिला पर्यटन विकास अधिकारी से चर्चा कर ग्रामीणों के सवालों का जवाब भी दिया। वहीं ग्रामीणों ने जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिंह नेगी का स्वागत अभिनंदन कर, सरकार की महत्वकांक्षी योजना की जानकारी से रूबरू कराने पर आभार व्यक्त किया। आयोजित कार्यक्रम में वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना एवं अतिथि गृह आवास होमस्टे योजना एवं दीनदयाल उपाध्याय गृह आवास होमस्टे विकास योजना के अंतर्गत फार्म वितरण किए गए। इस अवसर पर ग्राम प्रधान कांडी प्रह्लाद सिंह नेगी, आलम सिंह रावत, दीपक, नितिन कुमार, सुनील दत्त, देवचंद्र, जितेंद्र कुमार, चंद्रमा देवी, बिंदु, मालती देवी सहित स्थानीय निवासी मौजूद रहे।

Related post