जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने निर्माणाधीन राजकीय महाविद्यालय मजरा महादेव व चाकीसैंण तहसील का किया निरिक्षण

 जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने निर्माणाधीन राजकीय महाविद्यालय मजरा महादेव व चाकीसैंण तहसील का किया निरिक्षण
25 मार्च, 2021
                                                         

पौड़ी : जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने गुरूवार को जनपद के चाकीसैंण क्षेत्र के अंतर्गत मजरा महादेव में निर्माणाधीन राजकीय महाविद्यालय मजरा महादेव का स्थलीय निरीक्षण किया। कोविड-19 के चलते निर्माण कार्य 80 प्रतिशत तक ही होने के कारण उन्होंने संबंधित अधिकारियों एवं ठेकेदार को शेष लम्बित कार्यों में तेजी लाते हुए 15 मई 2021 तक कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये। उनके द्वारा निरीक्षण के दौरान कार्यों की गुणवत्ता की जांच भी करवाई गई, जो सही पाई गई। निरीक्षण से पूर्व उन्होंने पैठाणी स्थित राहू मंदिर एवं मजरा महादेव मंदिर में सपरिवार दर्शन एवं पूजा अर्चना कर खुशहाली हेतु प्रार्थना की। तत्पश्चात् उन्होंने तहसील कार्यालय चाकीसैंण का निरीक्षण तथा तहसील भवन हेतु चयनित भूमि का स्थलीय निरीक्षण भी किया।

जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने निर्माणाधीन राजकीय महाविद्यालय मजरा महादेव के निरीक्षण के दौरान विद्यालय परिसर में समुचित सुरक्षात्मक कार्य को गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के निर्देश दिए। उनके द्वारा निर्माणाधीन महाविद्यालय के प्रशासनिक भवन एवं कक्ष-कक्षाओं का नक्शे के अनुरूप नाप-जोख तथा शौचालय आदि का निरीक्षण भी किया। साथ ही विद्युत आपूर्ति, पेयजल, वर्षा के पानी निस्तारण संरक्षण आदि की जानकारी लेते हुए संबंधितों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने विद्यालय भवनों के छतों में पानी की टंकियों पर बंदरों से सुरक्षा हेतु जाली से कवर करने के निर्देश दिए। जबकि शौचालयों का पिट निर्धारित स्थान पर बनाने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने भवन में प्रयोग की जा रही ईंटों की जांच हेतु सैम्पल भी लिया। साथ ही उन्होंने परिसर के तटीय क्षेत्र में सुरक्षात्मक दीवार के ऊपरी हिस्से में फेंसिंग वाॅल लगाने तथा विद्यालय के मुख्य प्रवेश द्वार को भव्य रूप में बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कड़ी निर्देश देते हुए कहा कि कार्य को पारदर्शिता के साथ समयान्तर्गत पूर्ण करना सुनिश्चित करें। वहीं महाविद्यालय के प्राचार्य को निर्माणाधीन भवन की भूमि का दाखला खारिज कर नकल संरक्षित रखने तथा निर्माणाधीन भवन के निर्माण कार्यों पर निगरानी रखते हुए रिपोर्ट भी प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने चाकीसैंण बाजार के निचले क्षेत्र में फैली गंदगी को देखते हुए संबंधित तहसीलदार को निर्देशित किया कि क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के साथ समन्वय बिठाकर कूड़े का निस्तारण करना सुनिश्चित करें। तत्पश्चात् चाकीसैंण तहसील में निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने सेवा अभिलेखों में पाई गई कमियों को दूर करने हेतु संबंधित तहसीलदार को निर्देश दिये। साथ ही तहसील परिसर में साफ-सफाई, नाम/पदनाम पट्टिका एवं दैनिक कार्यों की डायरी साथ रखने के निर्देश भी दिये। तहसील परिसर में निरीक्षण के दौरान उन्होंने वसूली पटल के दस्तावेजों का अवलोकन कर शीर्ष 10 बकायेदारों की जानकारी प्राप्त की तथा कहा कि जो बकायेदार एकमुश्त धनराशि नहीं दे पा रहे हैं, उनसे शतप्रतिशत वसूली हेतु एक निश्चित समयावधि तय कर किश्तों में वसूली करना सुनिश्चित करें। संबंधित अधिकारी ने बताया कि अब तक 82 प्रतिशत की वसूली की गई है तथा शेष शीघ्र ही पूर्ण कर ली जायेगी।

निरीक्षण में जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने कतिपय कार्मिकों की सर्विस बुक पूर्ण न होने पर एक सप्ताह के भीतर पूर्ण करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने समय-समय पर निर्गत शासनादेश फाइलों का रख-रखाव एवं क्रमवार न होने पर नाराजगी जाहिर करते हुए उन्हें क्रमवार संरक्षित करने को कहा। उन्होंने भूलेख पटल के निरीक्षण के दौरान लम्बित वादों की जानकारी लेते हुए वादों का शीघ्र निस्तारण करने हेतु संबंधित रजिस्ट्रार, कानूनगो, तहसीलदार एवं उपजिलाधिकारी को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। इस मौके पर जिलाधिकारी ने ग्रामीणों की समस्याओं को सुनते हुए उनके निस्तारण का आश्वासन दिया। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी एस.एस. राणा, तहसीलदार गिरीश चंद्र पोखरियाल, प्रभारी प्राचार्य डॉ. राजेश जोशी, अध्यक्ष राठ विकास प्राधिकरण शंकर सिंह रावत, कार्यदाई संस्था के जेई सचिन सिंह राणा सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

 

Related post

%d bloggers like this: