माउंट गंगोत्री-I पर्वत शिखर के सफल आरोहण पर डीजीपी अशोक कुमार ने SDRF पर्वतारोहण टीम को किया सम्मानित

 माउंट गंगोत्री-I पर्वत शिखर के सफल आरोहण पर डीजीपी अशोक कुमार ने SDRF पर्वतारोहण टीम को किया सम्मानित
Posted on दिसंबर 23, 2021 4:46 pm
                                                   
ख़बर सुनने के लिए क्लिक करे 👉
देहरादून : पुलिस मुख्यालय के सभागार में पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड अशोक कुमार द्वारा एस.डी.आर.एफ. की पर्वतारोहण टीम को माउंट गंगोत्री प्रथम (21889 फीट) आरोहण करने पर सम्मानित किया गया। उल्लेखनीय है कि एसडीआरएफ की इस पर्वतारोहण टीम को माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड पुष्कर सिंह धामी द्वारा 09 सितम्बर 2021 को फ्लैग ऑफ कर रवाना किया गया था। माउण्ट गंगोत्री-I पर्वतारोहण अभियान पर रवाना इस टीम ने अनेक चुनौतियों को पार कर दिनांक 29 सितम्बर 2021 को गंगोत्री-I को फतह कर कीर्ति पताका फहराया था। गंगोत्री-I को फतह करने वाली यह उत्तराखण्ड पुलिस की पहली टीम रही। एक ओर जहां उत्तराखण्ड पुलिस में प्रथम बार पर्वतारोहण टीम की कमान एक महिला अधिकारी को दी गयी वहीं दो महिला आरक्षी भी इस टीम का अहम हिस्सा रही, जिन्होंने इस अभियान के तहत अपने साहस का अनुपम परिचय दिया।

This slideshow requires JavaScript.

पुलिस मुख्यालय के सभागार में पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार द्वारा टीम के सदस्यों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। उनके द्वारा टीम के अद्वितीय साहस की सराहना करते हुए कहा कि पर्वतारोहण को परम साहसिक व जोखिम से भरा माना जाता है। एसडीआरएफ पर्वतारोहण दल द्वारा माउंट गंगोत्री-I को फतह कर उत्तराखण्ड पुलिस का नाम रोशन किया गया है। पुलिस महानिदेशक महोदय ने पर्वतारोहण टीम को 20 हजार का ईनाम एवं मेडल देने की घोषणा भी की।
पुलिस उप महानिरीक्षक एसडीआरएफ रिद्धिम अग्रवाल द्वारा बताया गया कि माउंट गंगोत्री-I पर्वतारोहण अभियान से एसडीआरएफ जवानों द्वारा उच्च तुंगता प्रशिक्षण प्राप्त करने के साथ ही उच्च तुंगता क्षेत्र में प्रतिबंधित वस्तुओं एवं हानिकारक कूड़े का निस्तारण कर आम जनमानस को पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया है। जिसके लिए एसडीआरएफ टीम बधाई की पात्र है।
सेनानायक एसडीआरएफ नवनीत सिंह द्वारा एसडीआरएफ की इस विशिष्ट उपलब्धि को गौरवान्वित करने वाला अध्याय बताया गया। उनके द्वारा बताया गया कि  इस अभियान के बाद एसडीआरएफ ने उच्च तुंगता क्षेत्रों में अपनी रेस्क्यू क्षमता व कार्यकुशलता को बढ़ाया है। इस अभियान के माध्यम से प्रशिक्षित हुए जवानों ने माउंट त्रिशूल में नौ सेना के पर्वतारोही दल के रेस्क्यू मे व माह अक्टूबर में राज्य में आई आपदा में  हर्षिल, सुन्दरढूंगा, कफनी, पिण्डारी ग्लेशियर इत्यादि उच्चतुंगता क्षेत्र में अत्यंत जटिल रेस्क्यू कर अपनी विकसित कार्यकुशलता का उत्कृष्ट परिचय दिया है। इस अवसर पर अपर पुलिस महानिदेशक पीएसी पीवीके प्रसाद, पुलिस महानिरीक्षक पी/एम अमित सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक अपराध एवं कानून व्यवस्था वी मुरूगेशन, पुलिस महानिरीक्षक अभिसूचना एवं सुरक्षा संजय गुन्ज्याल, पुलिस महानिरीक्षक कार्मिक एपी अंशुमान, पुलिस महानिरीक्षक प्रशिक्षण पूरन सिंह रावत, पुलिस महानिरीक्षक फायर सर्विस अजय रौतेला सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Related post