सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने किया 29 नए सहकारी बैंकों तथा हल्द्वानी डाटा सेंटर का लोकार्पण

 सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने किया 29 नए सहकारी बैंकों तथा हल्द्वानी डाटा सेंटर का लोकार्पण
Posted on जनवरी 8, 2022 1:54 अपराह्न
                                                   
ख़बर सुनने के लिए क्लिक करे 👉
पौड़ी : प्रदेश के उच्च शिक्षा, सहकारिता, प्रोटोकॉल, आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत आज एनआईसी कक्ष पौड़ी से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से राज्य के 29 नए सहकारिता बैंकों तथा हल्द्वानी डाटा सेंटर का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि लोगों को पहले दूर-दूर से आ कर बैंकों के चक्कर काटने पड़ते थे, लेकिन अब राज्य सरकार ने शहर क्षेत्रों के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी बैंक स्थापित किये हैं। कहा कि बैंकों के साथ-साथ एटीएम मशीन भी लगाए जा रहे हैं। जिससे लोगों को बैंकों में कम से कम जाना पड़े। उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार ने विकास कार्यों में कोई कसर नही छोड़ी है। कहा कि स्वरोजगार अपनाने वाले किसानों को बैंक के माध्यम से कम ब्याज दर पर ऋण दिया जा रहा है। जिससे किसान स्वरोजगार से जुड़ रहे हैं। 

This slideshow requires JavaScript.

सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावतने एनआईसी कक्ष से वर्चुअल माध्यम से अल्मोड़ा जिले में 2 शाखा, बागेश्वर 2, नैनीताल 4 उधम सिंह नगर 5, पौडी 1,चमोली 2, टिहरी 4, पिथौरागढ़ 4 तथा देहरादून के 04 बैंक शाखाओं का लोकार्पण किया। इस अवसर पर वर्चुअल माध्यम से जुड़े लोगों उनका आभार जताया। सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि 5 वर्षों में सहकारिता के क्षेत्र में अभूतपूर्व कार्य हुए हैं। कहा कि प्रदेश में पिछले 2 माह में बैंकों की 80 नई शाखाओं का शुभारंभ किया गया है। कहा कि वर्तमान में राज्य सरकार ने 100 से अधिक नहीं शाखाओं का संचालन शुरू किया गया है। साथ ही उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कचहरी कल्याण योजना का पूरे प्रदेश में अच्छा परिणाम मिल रहा है। कहा कि एक माह के भीतर प्रदेश भर में 100 नए एटीएम मशीनें स्थापित किये जायेंगे। जिससे लोगों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि इस तरह के विकास कार्यों से उत्तराखंड राज्य नेशनल बैंकों की प्रतिस्पर्धा में शामिल हो जायेगा। इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष यशपाल बेनाम, अध्यक्ष राज्य मत्स्य सहकारी संघ अशोक वर्मा, राज्य सहकारी बैंक के प्रबंध ईरा उप्रेती, प्रबंध निदेशक यूपीएफ मंगला त्रिपाठी सहित अन्य उपस्थित थे।

Related post