कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने काली पट्टी बांधकर किया धरना प्रदर्शन

 कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने काली पट्टी बांधकर किया धरना प्रदर्शन
Posted on अक्टूबर 4, 2021 4:33 pm
                                                   
कोटद्वार। लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत एवं कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव व उत्तरप्रदेश की प्रभारी प्रिंयका गांधी वाड्रा को गिरप्तार किये जाने के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने काली पट्टी बांधकर धरना प्रदर्शन करते हुए मोदी एवं योगी सरकार का पुतला दहन करते हुए मालवीय उद्यान में धरना दिया साथ ही पूर्व काबीना मंत्री की अगुवाई में सैकडों की सख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पुलिस के समक्ष सामूहिक गिरफ्तारी दी ।

This slideshow requires JavaScript.

पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी की अगुवाई में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मालवीय उद्यान में काली पट्टी बांधकर मोदी एवं योगी सरकार के द्वारा किसानों के आंदोलन को बलपूर्वक कुचलने एंव आंदोलनकारी किसानों की हत्या किये जाने का घोर विरोध किया गया। पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी ने कहा कि तीन काले कृषि कानूनों को वापिस लिये जाने की मांग को लेकर देश का अन्नदाता किसान विगत दस माह से सडकों पर आंदोलन कर रहे है, लेकिन केन्द्र में बैठी बहरी एवं गूगी सरकार किसानों की मांगों को लगातार अनदेखा कर रही है.  कहा कि इस घटना पर आंदोलनकारी शहीद किसानों के प्रति कांग्रेस पार्टी संवेदना व्यक्त करती है, तथा आरोपियों को सख्त सजा दिये जाने एवं मृतक किसानों के परिजनो को न्याय दिये जाने की मांग करती है।
पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी ने किसानों का दर्द जानने के लिए लखीमपुर खीरी जा रही प्रियंका गांधी की गिरप्तारी की भी घोर निंदा की है। कहा कि मोदी एवं योगी की सरकार देश एवं प्रदेश में गुडांगर्दी कर अराजकता फैला रही है, जिसको अब देश कतई बर्दाश्त नहीं करेगा। कहा कि इस दुखद घटना पर प्रधानमंत्री एवं गृहमंत्री की चुप्पी इस प्रकार की घटना को संरक्षण दे रही है। इस मौके पर जिलाध्यक्ष डॉ. चन्द्रमोहन खर्कवाल, महानगर अध्यक्ष संजय मित्तल, महिला जिलाध्यक्ष गीता नेगी, पूर्व दर्जाधारी राज्य मंत्री विजय नारायण सिंह, यूथ कांग्रेस अध्यक्ष अमित राज सिंह, विधानसभा अध्यक्ष विजय रावत, गीता सिंह, प्रीति सिंह,  विनीता भारती, विनोद नेगी, चन्द्रमोहन रावत, नरेन्द्र सिंह नेगी, मीना बछुवाण, नीलम रावत, गुडडी देवी, शहनाज शम्सी, शोभा गोयल, बलवीर सिंह रावत, राजेन्द्र सिंह गुसाई, प्रदीप अग्रवाल, सुनील दत्त सेमवाल, हिमांशू बहुखंडी, विजय माहेश्वरी, महावीर सिंह रावत, मनोज रावत, दलीप सिंह रावत, सतेन्द्र सिंह बिष्ट, सरदार महेन्द्र सिंह, अनिल चौधरी, दिनेश गुसाई, महेन्द्र पाल सिंह, कविता भारती, आलम सिंह रावत, राज मोहन सिंह, पार्षद अनिल रावत, अमित नेगी, सूरज प्रसाद कांति,  सूरज प्रकाश, सतीश मलासी, बृजपाल सिंह नेगी, रजनीश उप्पल, धीरेन्द्र सिंह भंडारी, रूपेन्द्र सिंह नेगी, बलराम भाटिया, तेजबीर सिंह, राकेश सिंह, प्रदीप सिंह सहित सैकडों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।

Related post