मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने किया सीनियर सीटिजन नेशनल हेल्पलाईन एल्डरलाईन 14567 का शुभारंभ

 मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने किया सीनियर सीटिजन नेशनल हेल्पलाईन एल्डरलाईन 14567 का शुभारंभ
24 जून, 2021
                                                         

पौड़ी : मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज देहरादून के आईटी पार्क में सीनियर सीटिजन नेशनल हेल्पलाईन एल्डरलाईन 14567 का शुभारंभ किया। इस अवसर पर वर्चुअल माध्यम से जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे, मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई सहित अन्य अधिकारियों ने विकास भवन वीसी कक्ष पौड़ी से प्रतिभाग किया। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के अनुरूप यह हेल्पलाईन बुजुर्गों की समस्याओं के निदान में सहायक होगी। वहीं जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने वीसी कक्ष में मौजूद स्थानीय बुर्जुगों से बातचीत कर एल्डर हेल्प लाइन नम्बर की विस्तार पूर्वक जानकारी दी तथा उन्होंने बुर्जुगों की समस्याएं भी सुनी।

भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय और उत्तराखण्ड सरकार के द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण के लिए इस हेल्पलाइन कि शुरुआत की गई है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि बुजुर्गों की सहायता के लिये सभी को आगे आना चाहिए। इसके लिये जनजागरूकता बहुत जरूरी है। उत्तराखण्ड के दूरस्थ व पर्वतीय क्षेत्रों में बड़ी संख्या में वरिष्ठ जन एकाकी जीवन जी रहे हैं। हमें उन सभी तक पहुंचना है और उनकी समस्याओं का समाधान करना है। ग्राम स्तर तक जागरूकता लानी जरूरी है। वरिष्ठ जनों के कल्याण के लिए संचालित योजनाओं और कार्यक्रमों की जानकारी ग्राम स्तर तक दी जाए।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आशा व्यक्त की कि हेल्पलाईन 14567 बुजुर्गों की समस्याओं को दूर करने के उपयुक्त मंच होगा और उनको भावनात्मक सपोर्ट भी प्रदान करेगा। इस अवसर पर समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों तक मद्द पहुंचाने हेतु यह हेल्प लाइन नम्बर जारी किया गया है। कहा कि हेल्पलाइन पर सुबह 08:00 बजे से सांय 08:00 बजे तक इस पर सम्पर्क स्थापित कर जानकारी ले सकते हैं।

वहीं जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने वीसी कक्ष में उपस्थित बुर्जुगों की समस्याओं से रूबरू होते हुये कहा कि सभी बुर्जुग हेल्प लाइन नम्बर 14567 की सहायता लेकर अपनी समस्याएं बता सकते हैं। कहा कि बुर्जग स्वास्थ्य संबंधित, पेंशन, राशन, आवासीय सहित अन्य समस्याओं को संबंधित अधिकारियों को अवगत कराकर समाधान करा सकेगें। उन्होंने कहा कि यह हेल्प लाइन बुर्जुगों को विभागों से जोडेगी। कहा कि देशभर में उत्तराखंड पहला राज्य है जिसने बुर्जुगों की समस्याओं के लिये इस तरह की पहल की है। इस अवसर पर जिला समाज कल्याण अधिकारी सुनीता अरोड़ा, सहायक समाज कल्याण अधिकारी अनिल सेमवाल, स्थानीय बुर्जुग सुरेश चंद्र बड़थ्वाल, दिगम्बर सिंह रावत, शकुंतला ममगांई, रामेश्वरी देवी, गिरधारी सिंह, भुवनेश्वरी देवी सहित अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: