उत्तराखंड के चमोली में वोटर पंजीकरण के लिए मशाल और दिये जलाकर की जाएगी अपील …

 उत्तराखंड के चमोली में वोटर पंजीकरण के लिए मशाल और दिये जलाकर की जाएगी अपील …
Posted on दिसंबर 25, 2021 12:01 pm
                                                   
ख़बर सुनने के लिए क्लिक करे 👉

चमोली: निर्वाचक नामावली के विशेष पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत 01 जनवरी 2022 की अर्हता तिथि के आधार पर 30 नवंबर तक सभी बूथों पर छूटे हुए नागरिकों का पंजीकरण किया जा रहा है, जिसमें अब पांच दिन शेष रह गए है। जिन नागरिकों ने मतदाता सूची में अभी तक अपना पंजीकरण नही कराया है, उन लोगों को पंजीकरण कराने के लिए मशाल और दिये जलाकर संदेश पहुंचाया जाएगा।

मुख्य विकास अधिकारी/स्वीप कार्यक्रम के नोडल अधिकारी वरूण चौधरी ने बताया कि, ऐसे चिन्हित मतदेय स्थल जहां पर जनसंख्या की तुलना में पंजीकरण कम हुआ है, उन सभी मतदेय स्थलों पर 25 नवंबर की सांय को स्वीप कार्यक्रम के तहत मशाल और दिये जलाकर वोटर पंजीकरण कराने की अपील की जाएगी।

उन्होंने कहा कि, मतदेय स्थलों में इस कार्यक्रम के आयोजन हेतु बीएलओ को निर्देशित किया गया है। बताया कि, चिन्हित मतदेय स्थलों पर मजबूत लोकतंत्र-रोशन उत्तराखंड कार्यक्रम के तहत मशाल और दिये जलाकर जन समुदाय विशेषकर छूटे हुए नागरिकों से 30 नवंबर तक ऑनलाइन या अपने बूथ पर वोटर पंजीकरण कराने और वोटर कार्ड में किसी भी तरह के संशोधन एवं परिर्वतन के लिए अपील की जाए। ताकि शेष 05 दिनों में सभी छूटे हुए नागरिकों का मतदाता सूची में पंजीकरण हो सके।

ऐसे मतदाता जो 01 जनवरी,2022 को 18 वर्ष या उससे अधिक की आयु पूरी कर रहे हो, प्रारूप-6 में आवेदन करें। विवाह, स्थानान्तरण या मृत मतदताओं के नाम सूची से हटाने के प्रारूप-7 तथा मतदाता कार्ड में नाम, पता, लिंग आदि संशोधन के लिए प्रारूप-8 भरा जाएगा। वोटर हेल्पलाइन एप के माध्यम से भी पंजीकरण किया जा सकता है।