राज्य में पर्यटन एवं तीर्थाटन गतिविधियों के संचालन को लेकर सभी तैयारियां कर ली जाए पूरी – मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत

 राज्य में पर्यटन एवं तीर्थाटन गतिविधियों के संचालन को लेकर सभी तैयारियां कर ली जाए पूरी – मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत
25 जून, 2021
                                                         

चमोली :  प्रदेश के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलों के  जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षकों के साथ कोविड-19 महामारी के नियंत्रण, कोविड वैक्सिनेशन एवं कोविड की संभावित तीसरी लहर की तैयारियों को लेकर समीक्षा की। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि कोविड-19 महामारी में अब तक सभी जनपदो ने अच्छा काम किया है और आगे  और भी अच्छा करने की जरूरत है।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि कोरोना अभी समाप्त नही हुआ है और इसकी तीसरी लहर संभावित है जिसमें बच्चों के अधिक संक्रमित होने की आशंका है। मुख्यमंत्री ने निर्देशित किया कि बच्चों के नजरिए से परिस्थिति की संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए तीसरी लहर की सभी तैयारियां समय से पूरी करें। सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों को कोविड केयर सेंटर के रूप में तैयार करते हुए समय से जरूरी उपकरण व दवाओं की खरीद की जाए। मेडिकल स्टाॅफ को बच्चों के ट्रीटमेंट, वेंटिलेटर व अन्य उपकरणों के संचालन संबधी जरूरी प्रशिक्षण कार्य शीघ्र पूरा किया जाए।

 राज्य में पर्यटन एवं तीर्थाटन गतिविधियों के संचालन को लेकर भी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सभी तैयारियां पूरी करने के निर्देश दिए। यात्रा मार्ग पर होटल, रेस्टोरेंट संचालकों, दुकानदारों एवं वाहन चालकों का वैक्सीनेशन करने को कहा। ताकि संक्रमण का खतरा कम रहे। कोविड महामारी के नियंत्रण को लेकर मुख्यमंत्री ने सैंपलिंग बढाने तथा हर-घर तक मेडिसिन पहुॅचाने पर भी जोर दिया। निर्देश दिए मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग रखने तथा कोविड नियमों का सख्ती से अनुपालन कराने में किसी तरह की लापरवाही न बरती जाए। वैक्सीनेशन कार्यो की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार से पूरा सहयोग राज्य को मिल रहा है और वैक्सीन की कोई कमी नही होने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों में बुजुर्ग, दिब्यांगजनों को घर पर जाकर ही वैक्सीनेट करें। साथ ही लोगों को कोविड के प्रति निरतंर जागरूक करते रहे।
जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने जनपद में कोविड की रोकथाम के लिए संचालित कार्यो के बारे में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को अवगत कराते बताया कि तीसरी लहर के दृष्टिगत कोविड सेंटरों में 63 बेड तैयार किए गए है। इसके अलावा 8 एचडीयू, 2 पीआईसीयू तथा 10 एसएनसीयूएस बेड तैयार किए गए है। बताया कि उपकरणों की अतिरिक्त खरीद के लिए ऑडर कर दिया गया है। वैकसीनेशन कार्यो की जानकारी देते हुए जिलाधिकारी ने बताया कि चारधाम यात्रा मार्ग के लिए 5 हजार वैक्सीन मिली है और एक अभियान के तौर पर पूरे यात्रा मार्ग पर दुकानदारों, वाहनों चालकों एवं यात्रा से जुडे लोगों का वैक्सीनेशन किया जा रहा है। यात्रा मार्ग पर लगभग 3900 लोगों को वैक्सीनेशन के लिए चिन्हित किया गया है जिसमें से कल तक 2600 लोगों को वैक्सीन लगा दी गई है। बद्रीनाथ और पाण्डुकेश्वर में लगभग 2015 लोग चिन्हित किए गए थे जिसमें 1674 लोगों का वैक्सीनेशन हो चुका है। जिले में कोविड की स्थिति के बारे में जानकारी देते हुए जिलाधिकारी ने बताया कि कोविड अस्पताल में अभी सिर्फ दो मरीज भर्ती है। वही बरसात के दृष्टिगत सभी सीएचसी व पीएचसी में आॅक्सीजन सिलेण्डर एवं काॅन्सेंटेंटर रखवाए गए है ताकि आपदा सीजन में कोई समस्या न रहे।
पुलिस अधीक्षक यशंवत सिंह चौहान ने अवगत कराया कि यात्रा शुरू होने पर गौचर, पाण्डुकेश्वर, देव दर्शनी बैरिकेटिंग पर सख्ती से चैकिंग की जाएगी। बद्रीनाथ टाउन में माॅनिटरिंग के लिए 25 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है। इस दौरान वीसी में अपर जिलाधिकारी हेमंत वर्मा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. केके अग्रवाल, एसीएमओ डॉ. उमा रावत, डीडीएमओ एनके जोशी वीसी मौजूद थे।

Leave a Reply

Related post

%d bloggers like this: