पी.एम मोदी के अमेरिका दौरे पर भारत को पहला झटका दिया अमेरिका ने, जाने …

 पी.एम मोदी के अमेरिका दौरे पर भारत को पहला झटका दिया अमेरिका ने, जाने …
Posted on दिसंबर 23, 2021 1:17 pm
                                                   
ख़बर सुनने के लिए क्लिक करे 👉

वाशिंगटन: अमेरिका ने रणनीतिक हिंद-प्रशांत क्षेत्र में 21वीं सदी की चुनौतियों का सामना करने के लिए ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के साथ नई त्रिपक्षीय सुरक्षा साझेदारी में भारत या जापान को जोड़ने से इनकार किया है। 15 सितंबर को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन, ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन और ब्रिटिशप्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने संयुक्त रूप से त्रिपक्षीय सुरक्षा गठबंधन AUKUS के गठन की घोषणा की, जिसके तहत ऑस्ट्रेलिया को पहली बार परमाणु-संचालित पनडुब्बियों का एक बेड़ा मिलेगा।

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जेन साकी ने कहा, “पिछले हफ्ते AUKUS की घोषणा एक संकेत के लिए नहीं थी और मुझे लगता है कि यही संदेश राष्ट्रपति ने (फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल) मैक्रोन को भी भेजा था कि इंडो-पैसिफिक में सुरक्षा में शामिल होने वाला कोई और नहीं है।” साकी इस सवाल का जवाब दे रही थीं कि क्या भारत और जापान जैसे देश जिनके नेता इस सप्ताह पहले व्यक्तिगत रूप से क्वाड शिखर सम्मेलन के लिए वाशिंगटन में होंगे, उन्हें नए सुरक्षा गठबंधन का हिस्सा बनाया जाएगा। क्वाड में भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया शामिल हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन 24 सितंबर को व्हाइट हाउस में पहले व्यक्तिगत रूप से क्वाड शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहे हैं। इंडो-पैसिफिक में चीन का मुकाबला करने के प्रयास के रूप में देखा जाने वाला त्रिपक्षीय सुरक्षा गठबंधन AUKUS, अमेरिका और यूके को पहली बार परमाणु-संचालित पनडुब्बियों को विकसित करने के लिए ऑस्ट्रेलिया को तकनीक प्रदान करने की अनुमति देगा।

Related post