नहाय खाय के साथ शुरू हुआ चार दिनों का छठ अनुष्ठान

 नहाय खाय के साथ शुरू हुआ चार दिनों का छठ अनुष्ठान
Posted on दिसंबर 9, 2021 12:26 am
                                                   
ख़बर सुनने के लिए क्लिक करे 👉
पटना में बढ़ी रौनक, रंगीन बत्तियो से घाट हुए गुलजार
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दी छठ की बधाई व शुभकामना  
न्यूज ब्यूरो

पटना। लोक आस्था के महापर्व छठ की शुरुआत आज यानी सोमवार को नहाय खाय से शुरू हो गयी है. इसको लेकर पटना शहर की रौनक देखते ही बन रही है. सिर्फ पटना ही नहीं बल्की पूरे बिहार का वातावरण भक्तिमय हो गया है. छठ गीतों की धुनें मन मोह रही हैं. शहर के चौक-चौराहे, गलियों, नदी तालाबों, पोखरों आदि की साफ़ सफाई लगभग पूरी हो चुकी है. घाटों और घाटों से जुडी सड़कें-गलियां सज गयी हैं और रंगीन बत्तियों से गुलजार हो गयी हैं । सुबह से ही घाटों पर गंगाजल ले जाने और स्नानं करने वालो, व्रतियों से घाटों पर भीड़ लगी रही ।  इस महापर्व में आम और खास सभी पूरे श्रद्धा भाव से तैयारी में जुटे हैं । छठ व्रती आज नहाय खाय पर गंगा स्नान के बाद प्रसाद के रूप में कद्दू भात ग्रहण करेंगी. इसके बाद मंगलवार को खरना, बुधवार को अस्ताचलगामी भगवान सूर्य को अर्घ्य देने के बाद गुरुवार को उदयीमान भगवान सूर्य को अर्घ्य देकर 4 दिनों के इस महापर्व का समापन होगा.

This slideshow requires JavaScript.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी लोक आस्था के चार दिवसीय महापर्व छठ के अवसर पर राज्यवासियों को बधाई एवं शुभकामनायें दी हैं ।  मुख्यमंत्री ने कहा है कि लोक आस्था का यह महापर्व आत्मानुशासन का पर्व है, जिसमें लोग आत्मिक शुद्धि और निर्मल मन से अस्ताचल और उदयीमान भगवान सूर्य को अर्घ्य अर्पित करते हैं। साथ ही उन्होंने लोक आस्था के महापर्व छठ के अवसर पर भगवान भास्कर से बिहार की प्रगति, सुख, समृद्धि, शांति और सौहार्द्र के लिये प्रार्थना की है तथा सीएम ने कहा है कि बिहारवासियों से अपील की है कि वे भी इस महापर्व को मिल-जुलकर आपसी प्रेम, पारस्परिक सद्भाव और शांति के साथ मनायें।

गौरतलब है कि महापर्व छठ को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गंगा घाटों का मुआयना कर चुकें हैं और संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा भी दियें हैं. महापर्व छठ को लेकर प्रशासन भी पूरी मुस्तैदी के साथ गंगा घाटों से लेकर शहर के चौक चौराहों पर तैनात है. जिससे कि किसी भी छठ व्रती या उनके परिजनों को किसी तरह की कोई परेशानी न हो. सुरक्षा की दृष्टि से गंगा घाटों पर NDRF की टीमें बोट्स के साथ गश्ती कर रहीं हैं ।

लोक आस्था के इस पर्व पर सभी दुकानें पूरी तरह सज कर तैयार हैं. फल, सब्जियां, सूप-दौरा, टोकरी, मिट्टी के बर्तनों, आटा चक्की, आम की लकड़ियों आदि की दुकानों पर श्रद्धालुओं की भीड़ पहुंच रही है. पिछले साल की तुलना में इस साल बाज़ारों में महंगाई पर लोक आस्था के पर्व का जोश भारी पड़ रहा है । विभिन्न राजनीतिक एवं सामाजिक संगठनों द्वारा लोक आस्था के महापर्व को लेकर सूप, फल, कद्दू आदि तरह की पूजन-सामग्री का वितरण किया जा रहा है. रालोजपा कार्यालय में सोमवार को छठ व्रतियों को कद्दू का वितरण किया जा रहा है. वहीं बीजेपी के पूर्व राज्यसभा सांसद आर के सिन्हा भी सूप आदि पूजन सामग्रियों का वितरण कर रहे हैं । 

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने भी अपने संसदीय क्षेत्र उजियारपुर में घाटों की सफाई में लगे हुए हैं वहीं किशनगंज से कांग्रेस के सांसद डॉ मोहम्मद जावेद भी घाटों का निरीक्षण कर रहें हैं. यहां बड़ी बात ये है कि साल 2020 में कोरोना महामारी की वजह से सभी त्यौहारों को आंशिक रूप से ही मनाया गया था. महापर्व छठ में भी लोगों ने घाटों पर जाने के बजाय अपने घरों में ही भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया था । चूंकि साल 2021 में कोरोना की दूसरी लहर के बाद संक्रमण के मामलों में काफी कमी आई है जिसकी वजह से इस बार लोक आस्था के महापर्व छठ की अनूठी छटा देखने को मिल रही है ।

बेउर जेल में भी छठ पूजा का उत्साह. जेल में बंद 23 कैदी कर रहे छठ पूजा 

पटना के आदर्श केंद्रीय कारा बेउर में छठ पूजा को लेकर काफी उत्साह है. जेल में बंद कुल 23 कैदी इस बार छठ पूजा कर रहे हैं. इनमें 14 महिलाएं और पुरुष बंदी शामिल हैं । छठ को लेकर पटना के बेऊर जेल में तैयारी शुरू हो गयी है । छठ करने वाले बंदियों के लिए जेल प्रशासन ने पूरी व्यवस्था कर ली है । महिला व पुरुष के लिए अलग-अलग तालाब बनाये गये हैं । जेल प्रशासन ने पूजन सामग्री के साथ नहाय-खाय, खरना आदि की व्यवस्था की है । जेल अधीक्षक जितेंद्र कुमार ने बताया कि इस बार 23 बंदी छठ पूजा करेंगे. इसमें 14 महिलाएं व नौ पुरुष बंदी शामिल हैं । उन्होंने बताया कि महिला बंदियों में अंजली देवी, सुलेखा, ममता देवी, पंचाली, आभा, रिम्पी कुमारी, सीमा, सुखिया बिंद, राधा देवी, गीता देवी, इंदु, ज्योति, पिंकी, शिला व सुनीता देवी शामिल हैं । पुरुष बंदियों में गिरीश शंकर बिंद, संजय राय, राज कुमार राय, अखिलेश साह, मुसाफिर यादव, गजेंद्र भारती, सुबोध कुमार राय, पांचु राय व विमल साव भी छठ पूजा करेंगे।

Related post