हिंसक गुलदार को मारने की वन विभाग ने मांगी अनुमति

0

शिकारी लखपत सिंह नेगी व ज्वाॅय वकील से गैरबारम गांव पहुंच कर ग्रामीणों की सुरक्षा का किया अनुरोध

गोपेश्वर (चमोली)। चमोली जिले के तहसील थराली के गैरबारम गांव में हिंसक गुलदार ने आंतक मचा रखा है। जिससे निजात पाने व ग्रामीणों की सुरक्षा को देखते हुए बदरीनाथ वन प्रभाग के प्रभागीय वनाधिकारी आशुतोष सिंह ने मुख्य वन्य जीव प्रतिपालक उत्तराखंड को मंगलवार को पत्र भेजकर हिंसक गुलदार को मारने की अनुमति मांगी है। उन्होंने एक पत्र शिकारी लखपत सिंह नेगी व ज्वाॅय वकील को भेजकर कहा है कि जब तक अनुमति नहीं मिल जाती तब तक ग्रामीणों की सुरक्षा के लिए गांव में अपना डेरा डाल दें।

बता दें सोमवार की देर सांय सात बजे के आसपास गुलदार गैरबारम  गांव की एक 12 वर्षीय बालिका को अपना निवाला बना गया था। वहीं इससे पहले भी एक अन्य महिला पर हमला कर दिया था। जिससे क्षेत्र वासियों में भारी रोष पनप रहा था। जिसे देखते हुए बदरीनाथ वन प्रभाग के प्रभागीय वनाधिकारी ने शिकारी दल को गांव में पहंुच कर ग्रामीणों की सुरक्षा करने का अनुरोध किया है। साथ ही कहा है कि उन्होंने मुख्य वन्य जीव प्रतिपालक को पत्र लिखकर हिंसक गुलदार को मारने की अनुमति मांगी है। अनुमति मिलने के बाद ही अग्रीम कार्रवाई की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here