शेयर करें !

गोपेश्वर (चमोली)। बदरीनाथ हाईवे लामबगड में शुक्रवार रात्रि को हुई भारी वर्षा के कारण हुए लैंड स्लाइड में भारी वोल्डर और मलवा आने से अवरूद्व हुए बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग को कडी मसकत के बाद शनिवार दोपहर सभी प्रकार के वाहनों की आवाजाही के लिए खोल दिया गया है। जनपद में प्रमुख मोटर मार्ग कर्णप्रयाग-ग्वालदम, कर्णप्रयाग-गैरसैंण, कर्णप्रयाग-बद्रीनाथ, मण्डल-चोपता तथा जोशीमठ मलारी यातायात के लिए सुचारू है। जबकि बारिश के चलते वोल्डर व मलवा आने से १४ ग्रामीण मोटर मार्ग अवरूद्व हुए है जिनको खोलने का काम जारी है। अपर चमोली-खैनुरी मोटर मार्ग को छोड़कर बाकी सभी १३ मोटर मार्ग शनिवार देर सांय तक यातायात के लिए सुचारू हो जाएंगे।

चमोली जिले में रिकार्ड की गई वर्षा

शनिवार को तहसील चमोली में 8.6 मिमी, जोशीमठ में 3.4 मिमी, कर्णप्रयाग में 5.4 मिमी, तथा घाट में 10 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई। जिले की प्रमुख नदियों में अलकनन्दा नदी का जल स्तर खतरे के निशान 957.40 मीटर के सापेक्ष 954.90 मीटर, नन्दाकिनी नदी का जल स्तर खतरे के निशान 871.50 मीटर के सापेक्ष 867.65 मीटर तथा पिण्डर नदी का जल स्तर खतरे के निशान 773 मीटर के सापेक्ष 769.५59 मीटर पर बह रही है। सभी नदियां खतरे के निशान से नीचे बह रही है।

शेयर करें !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *