*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400, ऑफिस 01332224100 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

विधायक बद्रीनाथ ने किया निरीक्षण, भूस्खलन क्षेत्र लामबगड़ का किया निरिक्षण

14-08-2019 21:07:49 By: एडमिन

गोपेश्वर। बदरीनाथ विधायक महेंद्र भट्ट ने बुधवार को लामबगड़ क्षेत्र का भ्रमण किया। इस दौरान उन्होंने भूस्खलन जोन का निरीक्षण कर यहां लोनिवि व एनएच इकाई की ओर से किये जा रहे सुधारीकरण कार्य का जायजा लिया। उन्होंने ग्रामीणों को शीघ्र मुख्यमंत्री और केंद्र सरकार से वार्ता कर शीघ्र लामबगड़ जोन की समस्या के समाधान का भरोसा दिया।
लामबगड़ भूस्खलन जोन के निरीक्षण के दौरान महेंद्र भट्ट ने कहा लामबगड़ जोन के सुधारीकरण में भारत सरकार की ओर से लगाई गई रोक गलत है। क्योंकि भूस्खलन क्षेत्र का सुधारीकरण ऑल वेदर रोड़ योजना के तहत न होकर 2013 के आपदा सुधारीकरण के तहत किया जा रहा है। उन्होंने पर्यावरण मंत्रालय भारत सरकार से रोक हटाने की मांग उठाई है। कहा कि मामले में वे पत्र लिखकर रोक हटाने का आग्रह केंद्र सरकार से करेंगे। भ्रमण के दौरान लामबगड़ गांव की महिलाओं ने शीघ्र भूस्खलन जोन का सुधारीकरण न होने पर आंदोलन शुरु करने की चेतावनी दी। कहा गया कि भूस्खलन जोन का सुधारीकरण न होने से ग्रामीणों को आवाजाही में खासी दिक्कतों का समाना करना पड़ रहा है। जिस पर विधायक ने मुख्यमंत्री और केंद्र सरकार से वार्ता कर जल्द समस्या के निराकरण का आश्वासन दिया। इस मौके पर मनसा देवी, भगवती देवी सीता देवी, राकेश भंडारी, किशोर सिंह पंवार, कुलदीप सिंह, मुकेश डिमरी, रितेश चौहान, भगवती प्रसाद और गोपाल सिंह रावत आदि मौजूद थे।