*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

लापता किशोर का संदिग्ध परिस्थितियों में मिला शव, हत्या की आंशका

19-06-2019 19:59:03

गोपेश्वर/चमोली (जगदीश पोखरियाल)।  14 जून से लापता किशोर का बुधवार को बदरीनाथ धाम में मंदिर के पीछे की नर नारायण पहाड़ी पर संदिग्ध परिस्थितियों में शव बरामद हुआ है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर छानबीन शुरू कर दी है। लापता किशोर के माता पिता ने हत्या की आंशका जतायी है।
बता दें कि 14 जून को इलाबाद टैगोर टाॅप से कार्तिकेय मिश्रा उम्र 15 वर्ष अपने माता पिता विनायक मिश्रा व उपासना मिश्रा  के साथ बदरी विशाल के दर्शनों के लिए आया था। जहां से यह अचानक लापता हो गया। जिसकी गुमशुदगी उसके पिता विनायक मिश्रा ने थाना बदरीनाथ में दर्ज की थी। जिसके बाद पुलिस ने किशोर को खोजबीन शुरू कर दी थी। पुलिस ने बदरीनाथ के कई स्थानों पर खोजबीन की। यहां तक की पुलिस ने अलकनंदा नदी के किनारे चमोली तक भी सर्च किया गया, लेकिन लापता किशोर का कोई सुराग नहीं मिला। बुधवार को पुलिस की सर्चिंग टीम खोजबीन कर रही थी कि उन्हें बदरीनाथ मंदिर के पीछे नर नारायण पहाडी पर संदिग्ध परिस्थितियों में लापता किशोर का शव पड़ा मिला। थानाध्यक्ष बदरीनाथ सतेंद्र सिंह ने बताया कि बुधवार को पुलिस की टीम गुमशुदा किशोर की खोजबीन कर रही थी कि उन्हें बदरीनाथ के पीछे की पहाड़ी पर लापता किशोर का शव मिला। शव का नाक व कान में चोट के निशान बताये गये है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर  पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताया कि मौत के कारणों को पता पोस्टमार्टम के बाद ही लग पायेगा। पुलिस ने दो साधुओं को भी मामले में पुछताछ के लिए थाने में बुलाया है। जिनसे पुछताछ की जा रही है।