ब्रेकिंग न्यूज़ !
    *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

    बदरीनाथ हाईवे सहित जिले की 32 ग्रामीण सड़कें बाधित

    14-08-2019 21:14:58


    गोपेश्वर। चमोली जिले में रुकरुक कर हो रही बारिश के चलते बदरीनाथ हाईवे के साथ ही 32 ग्रामीण सड़कें बंद पड़ी हुई हैं। जिससे यहां बदरीनाथ धाम के तीर्थयात्रियों के साथ ही ग्रामीणों को आवजाही में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लामबगड़ जोन में हाईवे के बाधित होने से यहां दोनों ओर सौ अधिक वाहन फंसे हुए हैं।


    बदरीनाथ हाईवे लामबगड़ में मंगलवार शाम सात बजे बाधित हो गया था। जिसके बाद क्षेत्र में रुकरुक कर हो रही बारिश के चलते बुधवार देर शाम तक भी यहां हाईवे को सुचारु नहीं किया जा सका है। हालांकि बारिश थमने पर यहां लोनिवि की एनएच इकाई की ओर से हाईवे से मलवा हटाने का प्रयास किया गया। लेकिन बार-बार हो रही बारिश से हाईवे सुधारीकरण का कार्य बाधित हो रहा है। हाईवे के बाधित होने से यहां हाईवे पर 100 से अधिक छोटे-बडे वाहन फंसे हुए हैं। जहां करीब 80 तीर्थयात्री पैदल ही बदरीनाथ धाम के लिये रवाना हो गये हैं। वहीं करीब 350 तीर्थयात्री सुरक्षित स्थानों पर हाईवे के सुचारु होने का इंतजार कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों को यातायात से जोडने वाले 32 ग्रामीण सड़के बाधित पड़ी हुई हैं। जिससे यहां ग्रामीणों को अपने गंतव्य तक जाने के लिये मीलों की पैदल दूरी नापनी पड रही है।


    क्या कहते है अधिकारी
    लोनिवि की एनएच इकाई की ओर से लामबगड़ में हाईवे खोलने के प्रयास किये जा रहे हैं। लेकिन क्षेत्र में हो रही बारिश के चलते यहां सुधारीकरण कार्य के बाधित होने से दिक्कतें पैदा हो रही हैं। मौसम के साफ होते ही हाईवे को  सुचारु कर दिया जाएगा। वहीं ग्रामीण सड़कों को सुचारु करने के लिये लोनिवि और पीएमजीएसवाई की ओर से प्रयास किये जा रहे हैं।
    नंदकिशोर जोशी, आपदा प्रबंधन अधिकारी, चमोली।